Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजसट्टेबाजी वाला एप, ₹5000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग... ED की रडार पर ₹200 करोड़...

सट्टेबाजी वाला एप, ₹5000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग… ED की रडार पर ₹200 करोड़ की शादी में परफॉर्म करने वाली बॉलीवुड हस्तियाँ, हवाला के जरिए बाँटे गए पैसे

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि बॉलीवुड के कई बड़े नामों को हवाला के जरिए पैसों का भुगतान किया गया। एक बड़े अभिनेता को करोड़ों दिए जाने की बात कही जा रही है।

बॉलीवुड के कई सितारे ED (प्रवर्तन निदेशालय) के रडार पर हैं। दुबई में हुए एक आलीशान शादी के कार्यक्रम में ये सभी परफॉर्म करने गए थे। अब इस संबंध में ED इनसे पूछताछ कर सकती है। ये सारा मामला महादेव’ नामक सट्टेबाजी एप बनाने वाले सौरभ चंद्राकर से जुड़ा है। सौरभ ने प्राइवेट जेट भेज कर बॉलीवुड की हस्तियों को अपने शादी कार्यक्रम में दुबई बुलाया था। इस शादी में 200 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। उसने ‘महादेव’ नाम का एक ऑनलाइन बेटिंग अप्लीकेशन बनाया था।

इसके प्रोमोटर सौरभ चंद्राकर ने इसी साल फरवरी में शादी की थी। जिन सेलेब्स ने शादी में परफॉर्म किया था, वो हैं – सनी लियोनी, नेहा कक्कर, आतिफ असलम, राहत फ़तेह अली खान, अली असगर, विशाल डडलानी, एली अवराम, भारती सिंह, भाग्यश्री, कीर्ति खरबंदा, नुसरत भरुचा, कृष्णा अभिषेक और सुखविंदर सिंह। ‘महादेव’ बेटिंग एप को लेकर न सिर्फ ED जाँच कर रहा है, बल्कि कई राज्यों की पुलिस भी इसके पीछे लगी हुई है।

ED ने जो डिजिटल सबूत जुटाए हैं, उससे पता चला है कि हवाला के जरिए एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को 112 करोड़ रुपए दिए गए थे, वहीं होटल बुकिंग के लिए 42 करोड़ रुपए कैश का इस्तेमाल किया गया था। इस शादी कार्यक्रम का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें बॉलीवुड की हस्तियों को देखा जा सकता है। ये भी पता चला है कि इस एप की एक सक्सेस पार्टी भी हुई थी। सौरभ चंद्राकर और एप के दूसरे प्रोमोटर रवि उप्पल ने मिल कर सितंबर 2022 में इस पार्टी का आयोजन किया था।

इसमें भी बॉलीवुड के कई एक्टर और गायक पहुँचे थे। मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि बॉलीवुड के कई बड़े नामों को हवाला के जरिए पैसों का भुगतान किया गया। एक बड़े अभिनेता को करोड़ों दिए जाने की बात कही जा रही है। इस बेटिंग एप से जुड़ी 417 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है। दुबई से संचालित इस अप्लीकेशन के जरिए यूजर्स जोड़े जा रहे थे और बेनामी बैंक खातों के जरिए यूजर आईडी बना कर मनी लॉन्डरिंग की जा रही थी।

सट्टेबाजी से होने वाली कमाई को कई बैंक खातों में भेजा गया। भारत में इसके विज्ञापन और फ्रेंचाइजी आमंत्रित करने के लिए भी बड़ी मात्रा में पैसे खर्च किए गए। इस कंपनी के प्रमोटर्स छत्तीसगढ़ के भिलाई के रहने वाले हैं। इस एप के जरिए सट्टेबाजी के कई प्लेटफॉर्म्स को एक साथ जोड़ा गया था। कुल मिला कर 5000 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। बॉलीवुड सितारों को 7 सितारा होटलों में रुकवाया जाता था। इस एप को 30 सेंटरों के जरिए संचालित किया जा रहा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -