Saturday, May 18, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'अभी वोट करने आने वाले होंगे मुस्लिम, फोर्स भेज दो': DIG मुरादाबाद के नाम...

‘अभी वोट करने आने वाले होंगे मुस्लिम, फोर्स भेज दो’: DIG मुरादाबाद के नाम से फर्जी स्क्रीनशॉट वायरल, पुलिस के खंडन के बावजूद फैलाया जा रहा फेक न्यूज

मुरादाबाद के अधिकारी के नाम से इस तरह का फेक न्यूज फैलाने का एक ही मकसद था कि अमरोहा में दूसरे चरण में हुए मतदान को खास सांप्रदायिक नजरिए से प्रभावित किया जा सके।

लोकसभा चुनाव 2024 में दूसरे चरण के मतदान के दौरान मुरादाबाद रेंज के डीआईजी IPS मुनिराज के नाम से एक स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर तेजी से फैला। ये मैसेज वॉट्सऐप ग्रुप ‘बेबाक खबर बेबाक अंदाज’ से जुड़ा है, जिसमें मुस्लिम बहुल इलाकों में 3 बजे के बाद वोटिंग बढ़ने से रोकने के लिए फोर्स भेजने की अपील की जा रही है। ये स्क्रीनशॉट पूरी तरह से फर्जी है, ऐसी सफाई डीआईजी रेंज मुरादाबाद के एक्स हैंडल पर दी गई है। इसके बावजूद इस मैसेज को इस्लामी और कॉन्ग्रेस इकोसिस्टम तेजी से फैला रहा है, जिसमें कई कथित ‘पत्रकार’ भी शामिल हैं।

इस स्क्रीनशॉट में DIG मुनिराज नाम से मैसेज भेजा गया दिख रहा है, जिसमें लिखा है, “अभी सब लोग नमाज पढ़ने गए है और 3 बजे के बाद ये फिर भारी वोट करेंगे। मुस्लिम बूथ्स पर 40 प्रतिशत वोटिंग हो गई है। कैसे भी 3 बजे फोर्स लगा दीजिए, आपको बहुत बहुत धन्यवाद।” इसके बाद एक और मैसेज भेजा गया है, जिसमें लिखा है ‘अमरोहा’ यानी ये मैसेज अमरोहा के लिए भेजा गया है।

इस वायरल मैसेज की जानकारी पुलिस तक पहुँची, तो पुलिस ने इस मैसेज का खंडन किया। पुलिस की तरफ से पोस्ट लिखा गया है, जिसमें लिखा है, “सर्व संबंधित को सूचित किया जाता है कि सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्मों पर IPS Muniraj के नाम से किसी अज्ञात द्वारा भ्रामक खबर फैलाने हेतु एक वॉट्सऐप ग्रुप “बेबाक खबर बेबाक अंदाज” का स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा है, जबकि श्री मुनिराज जी, पुलिस उपमहानिरीक्षक, मुरादाबाद परिक्षेत्र मुरादाबाद “बेबाक खबर बेबाक अंदाज” वॉट्सऐप ग्रुप में नहीं हैं। तथ्यों की जानकारी कर आवश्यक विधिक कार्यवाही अमल में लायी जा रही है। ऐसी भ्रामक खबरों पर ध्यान न दें।”

इस खबर के खंडन के बावजूद ये फेक न्यूज तेजी से फैलाया गया। लोकेश राय नाम के पत्रकार ने लिखा, “इलेक्शन 2024 में क्या हो रहा है, ये देख लीजिए। एक सीनियर आईपीएस अफसर का मैसेज वायरल हुआ है। लगता है किसी संगठन के पदाधिकारी ने भेजा है।”

कॉन्ग्रेस कवर करने वाली ‘पत्रकार’ रोहिणी सिंह, जिनके एक्स पर 10 लाख से ज्यादा फॉलोवर्स हैं, उन्होंने इस फेक न्यूज को रीट्वीट करते हुए लिखा, “ये क्या हो रहा है यूपी पुलिस? शर्मनाक।”

फेक न्यूज फैलाने के आरोपों में जिस बोलता हिंदुस्तान नाम के यूट्यूब चैनल पर रोक लग चुकी है, उसने भी इसे आगे बढ़ाया और लिखा, “मुस्लिम बूथों पर 40% वोटिंग हो चुकी है। जुमे की नमाज के बाद वोटरों की भीड़ उमड़ेगी, भारी फोर्स लगाओ।” यूपी के IPS अफसर के व्हाट्सएप मैसेज पर मचा हंगामा”। हालाँकि बाद में इस एक्स हैंडल ने पुलिस की प्रतिक्रिया साझा करके अपनी जिम्मेदारियों से इतिश्री कर लिया और नफरत फैलाने वाले फेक न्यूज को नहीं हटाया।

इस पूरे खेल में फेक न्यूज फैलाने में माहिर माना जाने वाला जुबैर भी शामिल रहा। बाला नाम के एक्स यूजर ने दावा किया कि जुबैर ने फेक न्यूज फैलाने वाले दो लोगों के ट्वीट्स को री-ट्वीट किया। साथ ही दोनों ही ट्वीट्स को री-ट्वीट करने से जुड़े स्क्रीनशॉट भी शेयर किए और लिखा, “यूपी के एक डीआईजी का फेक स्क्रीनशॉट सुबह से वायरल किया जा रहा है, जिसके मकसद का केंद्र अधिकारी के खिलाफ सांप्रदायिक नफरत पैदा करना है। इस स्क्रीनशॉट का फैक्ट चेक करने की बचाय अल्ट न्यूज का को-फाउंडर और कॉन्ग्रेस आईटी सेल का सदस्य मोहम्मद जुबैर (@Zoo_Bear) इसे अपने टूलकिट के माध्यम से आगे बढ़ा रहा है। वो एक अधिकारी पर हमले के लिए भीड़ को उकसाने की कोशिश कर रहा है। वो (जुबैर) इस तरह के अपराधों को हमेशा अंजाम देता रहा है। यूपी पुलिस को इसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।”

बता दें कि मुरादाबाद में पहले चरण के दौरान ही 19 अप्रैल को मतदान समाप्त हो चुका है। ऐसे में मुरादाबाद के अधिकारी के नाम से इस तरह का फेक न्यूज फैलाने का एक ही मकसद था कि अमरोहा में दूसरे चरण में हुए मतदान को खास सांप्रदायिक नजरिए से प्रभावित किया जा सके।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

स्वाति मालीवाल पर AAP का यूटर्न: पहले पार्टी ने कहा कि केजरीवाल के पीए विभव ने की बदतमीजी, अब महिला सांसद के आरोप को...

कल तक स्वाति मालीवाल के साथ खड़ा रहने का दावा करने वाली आम आदमी पार्टी ने अब यू टर्न ले लिया है और विभव कुमार के बचाव में खड़ी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -