Monday, December 5, 2022
Homeदेश-समाजमदरसे में पढ़ाने वाले मौलवी ने किया 12 वर्षीय नाबालिग बच्ची का बलात्कार, गिरफ़्तार

मदरसे में पढ़ाने वाले मौलवी ने किया 12 वर्षीय नाबालिग बच्ची का बलात्कार, गिरफ़्तार

मौलवी ने मदरसे के एक कमरे में बच्ची का बलात्कार किया। जब पीड़िता ने शोर मचाया तो आसपास के कमरों से छात्र दौड़े आए। बच्ची को बदहवास अवस्था में देख कर छात्रों ने...

उत्तर प्रदेश में बलात्कार की घटनाएँ थमती नहीं नज़र आ रही हैं और कानून व्यवस्था की हालत भी काफ़ी बेहाल है। अब मेरठ के एक मरदसे में पढ़ाने वाले मौलवी द्वारा 12 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। शोर मचाने पर छात्रों ने उक्त मौलवी को दबोच भी लिया लेकिन अँधेरे का फायदा उठा कर वह वहाँ से भागने में कामयाब रहा। बाद में पुलिस ने दबिश देकर उसे गिरफ़्तार कर लिया।

सुरूरपुर क्षेत्र के एक ग्रामीण के अनुसार, कस्बे के बाहरी छोर पर एक मदरसा है, जिसमें न सिर्फ़ उस इलाके के बल्कि आसपास के गाँवों के बच्चे भी पढ़ने आते हैं। आरोपित मौलवी शहीद हर्रा का रहने वाला है और वह उसी मदरसे में तालीम देता था। उसके पिता का नाम इकबाल है। शनिवार (जून 8, 2019) देर शाम मौलवी बच्ची के घर पहुँचा और पढ़ाने का बहाना कर उस 12 वर्षीय बच्ची को अपने साथ मदरसे में ले गया।

वहाँ उस मौलवी ने एक कमरे में ले जाकर उक्त बच्ची का बलात्कार किया। जब पीड़िता ने शोर मचाया तो आसपास के कमरों से छात्र दौड़े आए। बच्ची को बदहवास अवस्था में देख कर छात्रों का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया और उन्होंने आरोपित मौलवी की वहीं पर पिटाई भी कर दी। मदरसे में दिन भर पंचायत चली, जिसमें इस घटना को लेकर चर्चा की गई। पीड़िता के परिजनों ने पुलिस को इस घटना की जानकारी दी। मौलवी पर पोक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिका का पैसा और सिक्योरिटी, चीन का लैब… ऐसे लीक हुआ कोरोना वायरस: वुहान में काम कर चुके वैज्ञानिक की किताब में खुलासा –...

एंड्रयू हफ ने चीन में WIV में काम किया था। उनका दावा है कि कोविड-19 एक मानव निर्मित वायरस है, जो WIV से लीक हो गया था। किताब में खुलासा।

हवाई सफर हुआ आसान, अब करिए Digi Yatra: आपका चेहरा ही बोर्डिंग पास, जानिए FRT का कब-कहाँ-कैसे मिलेगा फायदा

डिजी यात्रा (Digi Yatra)। डिजी यात्रा सेंट्रल इकोसिस्टम (DYCE)। चेहरा पहचान प्रणाली (FRT)। यदि हवाई यात्रा करते हैं तो इन शब्दों से नाता जोड़ लीजिए, क्योंकि अब चेहरा ही आपका बोर्डिंग पास है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,909FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe