Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजभोपाल पुलिस की बड़ी कार्रवाई: 64 विदेशी, 10 देशी तबलीगी जमातियों के साथ 13...

भोपाल पुलिस की बड़ी कार्रवाई: 64 विदेशी, 10 देशी तबलीगी जमातियों के साथ 13 मदद करने वालों के खिलाफ कई धाराओं में FIR दर्ज

इन पर वीजा का उल्लंघन करने का भी आरोप है। विदेशों से आए इन जमातियों ने भोपाल पहुँचने पर स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी थी। साथ ही लॉकडाउन के दौरान शासकीय आदेशों को भी नहीं माना था। विदेशों से आई जमात पर आरोप है कि यह सभी बिना किसी सूचना भोपाल में डेरा जमाए हुए थे।

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत में भी टूटा है, और मध्य प्रदेश इससे सबसे ज्यादा प्रभावित सूबों में से एक है। वहीं, तबलीगी जमात के लोगों की लापरवाही के चलते इस वायरस का प्रसार कई ऐसे इलाकों में भी हो गया है, जहाँ कुछ दिन पहले तक इसका नामो-निशान तक नहीं था। यही वजह है कि अब विभिन्न राज्यों की सरकारें तबलीगियों पर शिकंजा कस रही हैं। इसी कड़ी में मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की पुलिस ने 64 विदेशी और 10 देशी जमातियों पर मामला दर्ज किया है। भोपाल पुलिस ने 24 घंटे में लॉकडाउन उल्लंघन करने वालों पर 57 केस दर्ज किए हैं।

भोपाल पुलिस ने तबलीगी जमात के लोगों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए 74 जमातियों पर केस दर्ज किया है। इनमें 64 विदेशी और 10 देशी जमाती शामिल हैं। इनके अलावा जमातियों का सहयोग करने वाले 13 अन्य लोगों पर भी केस दर्ज हुए हैं। इस तरह पुलिस ने 64 विदे‍शी जमातियों समेत 87 लोगों पर FIR दर्ज की है।

जानकारी के मुताबिक, भोपाल के ऐशबाग, मंगलवारा, श्यामला हिल्स और पिपलानी तलैया थानों में मामले दर्ज किए गए हैं। इनके ऊपर धारा 188, 269, 270 आईपीसी की धारा 51 राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 13 और 14 एवं विदेशी विषयक अधिनियम 1964 के तहत केस दर्ज किया गया है।

इन पर वीजा का उल्लंघन करने का भी आरोप है। विदेशों से आए इन जमातियों ने भोपाल पहुँचने पर स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी थी। साथ ही लॉकडाउन के दौरान शासकीय आदेशों को भी नहीं माना था। विदेशों से आई जमात पर आरोप है कि यह सभी बिना किसी सूचना भोपाल में डेरा जमाए हुए थे।

बाकी 23 लोगों को अलग से आरोपित बनाया गया है। इन सभी को फिलहाल ईंटखेड़ी स्थित मस्जिद में शिफ्ट किया गया है। तलैया थानाप्रभारी डीपी सिंह का अनुसार यह सभी विदेशी इलाके में घूम रहे थे। चेतावनी देने के बाद उनका इलाके में भ्रमण बंद नहीं हो रहा था। पुलिस ने भोपाल के अलग-अलग इलाकों में रहने वाले 10 लोगों पर इनका सहयोग करने का मामला दर्ज किया है। बाकी 10 जमात के लोगों पर उनके साथ रहने के बाद भी पुलिस को सूचना न देने का मामला दर्ज किया गया है।

सभी आरोपितों में कजाकिस्तारन का एक, किर्गिस्तान के चार , उज्वेकिस्तान के एक जमाती पर वीजा उल्लंजघन का आपराधिक मामला दर्ज कर लिया है। उनके साथ समस्तीपुर बिहार के दो लोगों पर एफआईआर दर्ज की है। आरोपित इस्‍लामपुरा मस्जिद में बिना किसी सूचना के रूके थे। इसी तरह ऐशबाग मंगलवारा में भी अपराध दर्ज किया गया है। सभी को फिलहाल क्वारंटाइन में रखा गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अपनी ही कब्र खोद ली’: टाइम्स ऑफ इंडिया ने टोक्यो ओलंपिक में भारतीय तीरंदाजी टीम की हार का उड़ाया मजाक

दक्षिण कोरिया के किम जे ड्योक और आन सन से हारने के बाद टाइम्स ऑफ इंडिया ने दावा किया कि भारतीय तीरंदाजी टीम औसत से भी कम थी और उन्होंने विरोधियों को थाली में सजाकर जीत सौंप दी।

‘सचिन पायलट को CM बनाओ’: कॉन्ग्रेस के बड़े नेताओं के सामने जम कर हंगामा, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बुलाई थी बैठक

राजस्थान में मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों के बीच बहस और हंगामेबाजी हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,156FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe