Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजमध्यप्रदेश: नाबालिग लड़कियों से रेप मामले में पत्रकार प्यारे मियाँ समेत 6 पर 3...

मध्यप्रदेश: नाबालिग लड़कियों से रेप मामले में पत्रकार प्यारे मियाँ समेत 6 पर 3 FIR दर्ज

मध्य प्रदेश पुलिस ने प्यारे मियाँ उर्फ ​​अब्बा और उसके पाँच साथियों के खिलाफ इंदौर में मामला दर्ज किया। पलासिया पुलिस स्टेशन के प्रभारी विनोद दीक्षित ने कहा कि आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मध्य प्रदेश पुलिस ने 68 वर्षीय भोपाल के पत्रकार प्यारे मियाँ समेत 6 लोगों के ख़िलाफ़ इंदौर में 3 FIR दर्ज की है। इनके ऊपर 3 नाबालिग लड़कियों के बलात्कार का आरोप है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मध्य प्रदेश पुलिस ने प्यारे मियाँ उर्फ ​​अब्बा और उसके पाँच साथियों के खिलाफ इंदौर में मामला दर्ज किया। पलासिया पुलिस स्टेशन के प्रभारी विनोद दीक्षित ने कहा कि आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, नौकरी देने की लालच देकर इंदौर में तीन नाबालिगों के यौन शोषण के आरोप के मामले में प्यारे मियाँ व पाँच अन्य के खिलाफ तीन FIR दर्ज किया गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया, “भोपाल में नाबालिग लड़कियों के यौन शोषण के लिए आरोपितों पर पहले अलग एफआईआर दर्ज की गई थी। अब स्थानीय जाँच के लिए इंदौर पुलिस को तीन मामले भेजे गए हैं, यही वजह है कि एफआईआर औपचारिक रूप से यहाँ दर्ज की गई है।”

आरोपित प्यारे मियाँ वर्तमान में न्यायिक हिरासत के तहत जबलपुर की जेल में बंद हैं। पुलिस जल्द ही मियाँ को पूछताछ के लिए इंदौर ला सकती है।

भोपाल पुलिस की टीम ने मंगलवार को इंदौर में स्थित मियाँ के उस बंगले की तलाशी ली, जहाँ लड़कियों के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया गया था। पुलिस ने 15 दिन पहले परिसर को सील कर दिया था।

उल्लेखनीय है कि प्यारे मियाँ की काली करतूतों का खुलासा अभी बीते दिनों (12 जुलाई) उस समय हुआ जब देर रात गश्त करती पुलिस को 5 लड़कियाँ सड़क पर दिखीं। कारण पूछा गया तो जवाब देने के हालत में एक भी लड़की नहीं थी। सब शराब के नशे में थीं।

नाबालिग लड़कियों का शराब के नशे में होना पुलिस को खटका। फिर पुलिस ने सभी 5 लड़कियों को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया और वहाँ इनकी काउंसलिंग की गई। जब पूछताछ हुई तो इन्होंने यौन शोषण का खुलासा किया। इसके बाद पूरा मामला प्रकाश में आया।

पार्टियों में पैसे के बदले डांस करने और उसके बाद यौन शोषण (संभोग, रेप) के लिए प्यारे मियाँ ने इन नाबालिग लड़कियों को अपने जाल में फँसाया था। इस काम के लिए उसकी असिस्टेंट स्वीटी ने उसका साथ दिया था। लड़कियों ने पुलिस को बताया है कि उन्हें शाहपुरा क्षेत्र में शनिवार की रात एक जन्मदिन की पार्टी में नाचने के लिए ले जाया गया था। वहीं इस मामले के सामने आने के बाद प्यारे मियाँ फरार हो गया था। जिसे 15 जुलाई को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया था।

68 साल के प्यारे मियाँ का दामन और इतिहास, दोनों ही दागदार हैं। प्यारे मियाँ ने बेटी के रूप में गोद ली गई 13 साल की बच्ची से भोपाल और इंदौर में दुष्कर्म किया था। इस मामले में प्यारे मियाँ से पहले दो महिलाओं सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इनमें महिला दलाल स्वीटी विश्वकर्मा (21), उवैस, अनस और राबिया भी शामिल थी। उबेज और अनस मुख्य आरोपित प्यारे मियाँ के रिश्तेदार हैं। एक पीड़िता की दादी को भी गिरफ्तार किया गया था।

प्यारे मियाँ के ड्राइवर के भाई उबेज ने भी किया था बच्ची से दुष्कर्म

आरोपित प्यारे मियाँ के ड्राइवर और रिश्तेदार अनस के भाई उबेज ने भी बच्ची से ज्यादती की थी। इंदौर में बच्ची के गर्भवती होने पर उसका गर्भपात भोपाल के शाहजहांनाबाद क्षेत्र के एक अस्पताल में कराया गया।

गर्भपात के दौरान उसके परिजन के रूप में अस्पताल में प्यारे मियाँ की ही एक सहयोगी 21 वर्षीय स्वीटी विश्वकर्मा मौजूद रहीं। चाइल्ड लाइन और कोहेफिजा पुलिस को प्यारे मियाँ की इन तमाम कारस्तानियों का खुलासा उसकी हैवानियत की शिकार हुई 16 वर्षीय किशोरी के बयानों से हुआ था। फिलहाल उसे कई नाबालिगों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,514FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe