Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाजस्कूल की टूर बस में खाने-पीने का सामान बाँट रहा था जावेद खान, छात्राओं...

स्कूल की टूर बस में खाने-पीने का सामान बाँट रहा था जावेद खान, छात्राओं का किया यौन शोषण: भड़के अभिभावक, प्रिंसिपल पर भी कार्रवाई की माँग

महाराष्ट्र के ठाणे में एक स्कूल के टूर पर गई लड़कियों से छेड़खानी का मामला सामने आया है। यह आरोप जावेद खान नाम के युवक पर लगा है। जावेद बस में छात्राओं को खाने-पीने का सामान देने के लिए रखा गया था। पीड़ित छात्राओं ने इस घटना की जानकारी अपने माता-पिता को दी।

महाराष्ट्र के ठाणे में एक स्कूल के टूर पर गई लड़कियों से छेड़खानी का मामला सामने आया है। यह आरोप जावेद खान नाम के युवक पर लगा है। जावेद बस में छात्राओं को खाने-पीने का सामान देने के लिए रखा गया था। पीड़ित छात्राओं ने इस घटना की जानकारी अपने माता-पिता को दी। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर बुधवार (21 फरवरी 2024) को जावेद खान को गिरफ्तार कर लिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला ठाणे के कपूरबावड़ी क्षेत्र का है। यहाँ के सीपी गोयनका स्कूल की छात्राएँ कुछ दिन पहले अपने अध्यापकों के साथ टूर पर गई थीं। टूर के लिए बस बुक की गई थी, जिसमें खाने-पीने का सामान बाँटने के लिए जावेद खान को रखा गया था। आरोप है कि जावेद ने लड़कियों को खाने का सामान देने के दौरान उनसे छेड़खानी की। इस हरकत पर लड़कियाँ परेशान हो गईं, लेकिन उस समय खामोश रहीं।

हालाँकि, घर लौटकर कई छात्राओं ने अपने परिजनों को 27 साल के जावेद खान की करतूत के बारे में बताया। छात्राओं के परिजन जावेद की इस हरकत से काफी नाराज हुए। उन्होंने सबसे पहले स्कूल प्रशासन को इसकी सूचना दी। बाद में उन्होंने स्थानीय कपूरबावड़ी पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने आरोपित पर सुसंगत धाराओं में FIR दर्ज कर ली।

बाद में दबिश देकर पुलिस ने जावेद खान को गिरफ्तार कर लिया। इस गंभीर घटना पर लचीला रुख अपनाने का आरोप लगाकर कई छात्राओं के अभिभावकों ने सीपी गोयनका स्कूल प्रशासन के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन भी किया। पीड़ित छात्राओं के परिजनों ने इस मामले की गहनता से जाँच करवाने की माँग की है। मामले की नजाकत को देखते हुए पुलिस केस की जाँच में जुटी हुई है।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के नेता अविनाश जाधव और शिवसेना (शिंदे गुट) के नेता एवं ठाणे के पूर्व नगरसेवक संजय भोईर ने इस इस घटना पर नाराजगी जताई है। स्कूल प्रबंधन के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में वे भी शामिल हुए। छात्राओं के परिजनों ने जावेद को को जिम्मेदारी देने वाले प्रिंसिपल के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है। अभिभावकों कहना है कि जब तक प्रिंसिपल पर कार्रवाई नहीं होगी, वे अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -