Friday, October 22, 2021
Homeदेश-समाजपुलिस गई थी लॉकडाउन का पालन कराने, महाराष्ट्र में जुबैर होटल के स्टाफ सहित...

पुलिस गई थी लॉकडाउन का पालन कराने, महाराष्ट्र में जुबैर होटल के स्टाफ सहित सैकड़ों ने दौड़ा-दौड़ा कर मारा

अज्ञात हमलावरों समेत जुबैर होटल के मालिक और उसके सभी कर्मचारियों निसार खिचड़ीवाला, जाकिर खान, मोहम्मद हनीफ रशीद शेख और अरबाज शेख के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो वायरल हुए हैं, जिसमें महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के संगमनेर में 100 से 150 लोगों की भीड़ पुलिस अधिकारी को दौड़ाकर उन्हें ईंटों से मारती और पीटती दिखाई दे रही है। ये पुलिस अधिकारी लॉकडाउन लागू कराने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन अनियंत्रित भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया। पथराव की घटना में दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

एक वीडियो में, भीड़ एक पुलिस अधिकारी का पीछा करते हुए दिखाई देती है और वह अपनी जान बचाने के लिए भाग रहे होते हैं। खबरों के मुताबिक, भीड़ ने न केवल पुलिसकर्मियों का पीछा किया और ईंटें फेंकी, बल्कि दो पुलिस वाहनों और इलाके में एक पेड़ के नीचे स्थापित एक पुलिस चौकी पर भी तोड़फोड़ की।

स्थानीय मीडिया के अनुसार, हिंसा तब भड़की जब गुरुवार को लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस टीम ने संगमनेर के दिल्ली नाका क्षेत्र के तीनबत्ती चौक पर अकारण ही घूम रहे कुछ युवकों को रोका। इस दौरान भीड़ में से अधिकतर ने न तो मास्क पहने थे और न ही कहीं सोशल डिस्टेंसिंग दिखी।

जब पुलिसकर्मियों ने युवकों को घर जाने का आदेश दिया, तो वे बहस करने लगे। इसके बाद आरोपितों ने हाथापाई शुरू कर दी। इस बीच सैकड़ों की भीड़ सड़कों पर उतर आई। उन्होंने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया।

हालात तनावपूर्ण हो गए हैं, जिसे देखते हुए इलाके में रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है। बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण महाराष्ट्र में हालात काफी खराब हैं।

पुलिस अधिकारी सलमान शेख द्वारा दर्ज शिकायत के मुताबिक, इस मामले में कई अज्ञात हमलावरों समेत जुबैर होटल के मालिक और उसके सभी कर्मचारियों निसार खिचड़ीवाला, जाकिर खान, मोहम्मद हनीफ रशीद शेख और अरबाज शेख के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आरोपितों पर एक लोकसेवक को उसके कर्तव्यों का निर्वहन न करने देने, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने और दंगा भड़काने का मामला दर्ज किया गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंक पर योगी सरकार लगाएगी नकेल: जम्मू-कश्मीर में बंद 26 आतंकियों को भेजा जा रहा यूपी, स्लीपर सेल के जरिए फैला रहे थे आतंकवाद

कश्मीर घाटी की अलग-अलग सेंट्रल जेलों में बंद 26 आतंकियों का पहला ग्रुप उत्तर प्रदेश की आगरा सेंट्रल जेल के लिए रवाना कर दिया गया।

‘बधाई देना भी हराम’: सारा ने अमित शाह को किया बर्थडे विश, आरफा सहित लिबरलों को लगी आग, पटौदी की पोती को बताया ‘डरपोक’

सारा ने गृहमंत्री को बधाई दी लेकिन नाराज हो गईं आरफा खानुम शेरवानी। उन्होंने सारा को डरपोक कहा और पारिवारिक बैकग्राउंड पर कमेंट किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,880FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe