वायनाड: शौहर गया था नमाज़ पढ़ने, प्रेमी-प्रेमिका ने बम बाँधकर खुद को उड़ाया

पुलिस का कहना है कि अमला और उसका पति नयकट्टी में सेंटर चलाते थे। जबकि बेन्नी की फर्नीचर की दुकान है। दोनों परिवार एक दूसरे को पिछले 8 साल से जानते थे।

केरल के वायनाड में शुक्रवार (अप्रैल 29, 2019) को एक शख्स ने अपनी कमर पर बम बाँधकर खुद को और अपनी प्रेमिका को बम से उड़ा दिया। इस धमाके में दोनों की मौत हो गई। पूरी घटना को अंजाम देने के लिए देसी बम ‘थोट्टा’ का इस्तेमाल किया गया था।

मृतकों के पहचान 45 साल के बेन्नी और 38 साल की अमला के रूप में हुई है। खबरों के अनुसार दोनों की शादी अलग-अलग जगह हो चुकी है, लेकिन उनके बीच अवैध संबंध था।

शुक्रवार की दोपहर एलवाना नाज़र (अमला का शौहर) जब नमाज पढ़ने गया तो 1:30 बजे बेन्नी अपनी प्रेमिका अमला के घर आया। इस दौरान उसने अपनी शरीर पर बम बाँधा हुआ था। अमला के नजदीक पहुँचते ही बेन्नी ने उसे गले लगाया और ब्लास्ट कर दिया। घटना के दौरान अमला की 5 साल की बेटी भी वहाँ मौजूद थी लेकिन दूर होने के कारण वो सुरक्षित बच गई।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

पुलिस का कहना है कि अमला और उसका पति नयकट्टी में सेंटर चलाते थे। जबकि बेन्नी की फर्नीचर की दुकान है। दोनों परिवार एक दूसरे को पिछले 8 साल से जानते थे। घटना की बाद से पुलिस जाँच में जुटी हुई है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन
गरीबों के बच्चों की बात करने वाले ये भी बताएँ कि वहाँ दो बार MA, फिर एम फिल, फिर PhD के नाम पर बेकार के शोध करने वालों ने क्या दूसरे बच्चों का रास्ता नहीं रोक रखा है? हॉस्टल को ससुराल समझने वाले बताएँ कि JNU CD कांड के बाद भी एक-दूसरे के हॉस्टल में लड़के-लड़कियों को क्यों जाना है?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,491फैंसलाइक करें
22,363फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: