Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजवायनाड: शौहर गया था नमाज़ पढ़ने, प्रेमी-प्रेमिका ने बम बाँधकर खुद को उड़ाया

वायनाड: शौहर गया था नमाज़ पढ़ने, प्रेमी-प्रेमिका ने बम बाँधकर खुद को उड़ाया

पुलिस का कहना है कि अमला और उसका पति नयकट्टी में सेंटर चलाते थे। जबकि बेन्नी की फर्नीचर की दुकान है। दोनों परिवार एक दूसरे को पिछले 8 साल से जानते थे।

केरल के वायनाड में शुक्रवार (अप्रैल 29, 2019) को एक शख्स ने अपनी कमर पर बम बाँधकर खुद को और अपनी प्रेमिका को बम से उड़ा दिया। इस धमाके में दोनों की मौत हो गई। पूरी घटना को अंजाम देने के लिए देसी बम ‘थोट्टा’ का इस्तेमाल किया गया था।

मृतकों के पहचान 45 साल के बेन्नी और 38 साल की अमला के रूप में हुई है। खबरों के अनुसार दोनों की शादी अलग-अलग जगह हो चुकी है, लेकिन उनके बीच अवैध संबंध था।

शुक्रवार की दोपहर एलवाना नाज़र (अमला का शौहर) जब नमाज पढ़ने गया तो 1:30 बजे बेन्नी अपनी प्रेमिका अमला के घर आया। इस दौरान उसने अपनी शरीर पर बम बाँधा हुआ था। अमला के नजदीक पहुँचते ही बेन्नी ने उसे गले लगाया और ब्लास्ट कर दिया। घटना के दौरान अमला की 5 साल की बेटी भी वहाँ मौजूद थी लेकिन दूर होने के कारण वो सुरक्षित बच गई।

पुलिस का कहना है कि अमला और उसका पति नयकट्टी में सेंटर चलाते थे। जबकि बेन्नी की फर्नीचर की दुकान है। दोनों परिवार एक दूसरे को पिछले 8 साल से जानते थे। घटना की बाद से पुलिस जाँच में जुटी हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मानसिक-शारीरिक शोषण से धर्म परिवर्तन और निकाह गैर-कानूनी: हिन्दू युवती के अपहरण-निकाह मामले में इलाहाबाद HC

आरोपित जावेद अंसारी ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' के खिलाफ बने कानून के तहत हो रही कार्रवाई को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट का रुख किया था।

गोविंद देव मंदिर: हिंदू घृणा के कारण औरंगजेब ने जिसे आधा ढाह दिया… और उसके ऊपर इस्लामिक गुंबद बना नमाज पढ़ी

भगवान गोविंद देव अर्थात श्रीकृष्ण का यह मंदिर वृंदावन के सबसे पुराने मंदिरों में से एक। मंदिर के विशालकाय दीपक की चमक इसकी शत्रु साबित हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,352FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe