Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजफेसबुक लव स्टोरी: जब पीएम मोदी ने दो दिलों को मिलाया

फेसबुक लव स्टोरी: जब पीएम मोदी ने दो दिलों को मिलाया

जय की लव स्टोरी काफ़ी वायरल हो रही है और लोग उनकी प्रेम कहानी को पसंद भी कर रहे हैं। यह सोशल मीडिया पर भी काफ़ी शेयर किया जा रहा है।

दो अनजान लोग फेसबुक पर मिले, दोनों में प्यार हुआ और फिर उन्होंने शादी कर ली। लेकिन ये सुन कर आप चौंक जाएंगे कि इस पूरी कहानी के पीछे नरेंद्र मोदी हैं। यह बात ख़ुद उस व्यक्ति ने ट्वीट कर बताई। जय दवे नमक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के साथ फ़ोटो ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि वो और उनकी पत्नी पीएम मोदी के कारण शादी के बंधन में बंधे हैं।

जय दवे ने ट्वीट कर पीएम को धन्यवाद दिया।

जय के अनुसार, एक लड़की ने नरेंद्र मोदी के समर्थन में किए उनके कमेंट को लिखे किया, जिसके बाद उनका प्रेम परवान चढ़ा। जय ने पीएम को टैग करते हुए लिखा:

“नरेंद्र मोदी जी हम आपके कारण शादी के बंधन में बंधे हैं। मैंने राहुल गाँधी के फेसबुक पेज पर आपके समर्थन में कॉमेंट किया और इस सुंदर लड़की ने मेरे कॉमेंट को लाइक किया। हमने बात की, एक-दूसरे से मिले और पाया कि हम दोनों आपका समर्थन करते हैं क्योंकि हम भारत के लिए जीना चाहते हैं। इसलिए हमने शादी करने का फैसला कर लिया।”

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा सहित कई लोगों ने इस जोड़े को बधाई दी। इसके बाद यह ट्वीट डिलीट हो गया, जिसके बाद लोगों ने जय को ट्रोल करना शुरू कर दिया। इस पर जवाब देते हुए उन्होंने दो और ट्वीट किया। उन ट्वीट्स में जय ने बताया:

“मैं कुछ और डिलीट करना चाहता था लेकिन गलती से वह ट्वीट डिलीट हो गया। मीडिया और सोशल मीडिया में एक गलतफहमी है कि मैंने ट्रोल होने के डर से वह ट्वीट डिलीट किया है। सच यह है कि मोदी जी की तरह ही मैं भी ट्रोलिंग और आलोचना का आदी हो चुका हूँ। देश की ओर मेरा कमिटमेंट ट्रोल्स से प्रभावित नहीं होगा। जय हिंद।

जय की लव स्टोरी काफ़ी वायरल हो रही है और लोग उनकी प्रेम कहानी को पसंद भी कर रहे हैं। यह सोशल मीडिया पर भी काफ़ी शेयर किया जा रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक शक्तिपीठ जहाँ गर्भगृह में नहीं है प्रतिमा, जहाँ हुआ श्रीकृष्ण का मुंडन संस्कार: गुजरात का अंबाजी मंदिर

गुजरात के बनासकांठा जिले में राजस्थान की सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है शक्तिपीठों में से एक श्री अरासुरी अंबाजी मंदिर।

5 या अधिक हुए बच्चे तो हर महीने पैसा, शिक्षा-इलाज फ्री: जनसंख्या बढ़ाने के लिए केरल के चर्च का फैसला

केरल के चर्च के फैसले के अनुसार, 2000 के बाद शादी करने वाले जिन भी जोड़ों के 5 या उससे अधिक बच्चे हैं, उन्हें प्रत्येक माह 1500 रुपए की मदद दी जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,576FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe