Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजहिंदू लड़कियों के अंडरगार्मेंट्स काम-वासना के लिए चोरी करते थे मो. रोमिन और मो....

हिंदू लड़कियों के अंडरगार्मेंट्स काम-वासना के लिए चोरी करते थे मो. रोमिन और मो. असाक, 10+ लड़कियों के कपड़े बरामद

इसी मामले से जुड़ी एक और वीडियो सामने आई है। इसमें आरोपित स्कूटी से आता है, चारों तरफ देखता है और बाहर टंगे कपड़ों में से सिर्फ अंडरगार्मेंट्स चुरा कर भागता है। इस वीडियो में आरोपी का चेहरा साफ-साफ दिख रहा है।

मेरठ के सदर थाना क्षेत्र में लड़कियों के अंडगार्मेंट्स चोरी करने वाले एक शख्स की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में चोरी का कारण पता चला है। आरोपित ने स्वीकारा है कि वह लड़कियों के अंडरगार्मेंट्स चुराते थे। अब पुलिस उसके अन्य साथियों की तलाश कर रही है।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले सदर बाजार के व्यापारियों ने थाने में सीसीटीवी फुटेज सौंपी थी, जिसमें दो युवक स्कूटी पर दिखे थे। इनमें से एक को स्पष्ट तौर पर घर के बाहर सूख रहे अंडरगार्मेंट को चुराते देखा गया था। इस फुटेज के सामने आने के बाद पुलिस ने घटना में शामिल मो. रोमिन नाम के युवक को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं मो. अक्कास की छानबीन अब भी जारी है।

खबरों के अनुसार, थाना प्रभारी सदर बाजार विजेंद्र राणा ने बताया कि आरोपित युवक अपनी कामुकता के लिए लड़कियों के अंडरगार्मेंट्स की चोरी करते थे। इसी के चलते उन्होंने कम से कम 10 लड़कियों के कपड़े चोरी किए थे। उनके पास से चोरी हुए अंडरगार्मेंट्स बरामद हो गए हैं।

पुलिस को शक है कि इस तरह की चोरी के केस में और लोग भी जुड़े हो सकते हैं, इसलिए पुलिस पहले रोमिन के दूसरे साथी को पकड़ेगी फिर बाकी लोगों की तलाश करेगी।

लड़कियों के वस्त्र चुराने वाले रोमिन अब्बासी ने अभी तक यही बताया कि यह घिनौनी हरकत उसने सीरियल में ऐसा कुछ देख कर शुरू की थी। मगर हाल में चोरी के बाद जब उसकी वीडियो वायरल हुई तो उसने उन कपड़ों को दूसरे की छत पर फेंक दिया, जिसे पुलिस ने अपनी पड़ताल में बरामद कर लिया।

पत्रकार सचिन गुप्ता ने इसी केस से जुड़ी एक और वीडियो अपने ट्वीट पर अपलोड की है। इसमें स्पष्ट तौर पर एक युवक स्कूटी से आता दिख रहा है और बाहर टंगे कपड़ों में से अंडरगार्मेंट्स को चुरा कर स्कूटी से भागता नजर आ रहा है।

गौरतलब है कि इस पूरे मामले के संबंध में सदर थाना क्षेत्र में सबसे पहले 14 मार्च 2021 को शिकायत हुई थी। पहले स्थानीयों ने इसके पीछे वशीकरण की मंशा को कारण बताया था। वहीं मामले में आरोपितों की पहचान स्पष्ट होने के बावजूद कुछ मीडिया ने इसे तंत्र मंत्र से जुड़ा मामला कहकर सही से रिपोर्ट नहीं किया था

सोशल मीडिया पर लोगों ने पूरी घटना की पोल खोल दी थी। यूजर्स ने इस ओर ध्यान आकर्षित करवाया कि वीडियो में साफ दिख रहा है कि स्कूटी से आए दो युवकों में से एक टोपी लगाकर मस्जिद गया और दूसरा वस्त्र चोरी कर स्कूटी में रखना दिखा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,101FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe