Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाज'तुम मुझसे रिश्ता क्यों नहीं रखते?' - ये कह कर महजबीन मोहसिन ने अपने...

‘तुम मुझसे रिश्ता क्यों नहीं रखते?’ – ये कह कर महजबीन मोहसिन ने अपने पूर्व प्रेमी पर फेंक दिया तेज़ाब, बुरी तरह झुलसा

ये मामला अहमदाबाद के बापूनगर इलाके का है। यहाँ 51 साल के राकेश ब्रह्मभट्ट पर उनकी पूर्व प्रेमिका महजबीन मोहसिन ने अपनी सहेली की मदद से तेजाब फेंक दिया।

अहमदाबाद में महजबीन मोहसिन नाम की मुस्लिम महिला ने अपने पूर्व हिंदू प्रेमी पर एसिड अटैक कर दिया, क्योंकि वो अब उस महिला से रिश्ता नहीं रखना चाहता था। ये रिश्ता करीब 4 साल तक चला था, लेकिन घर वालों की वजह से दोनों अलग हो गए थे। पर गुस्साई महजबीन ने बदले के लिए हर हद को पार कर दिया और अपने पूर्व प्रेमी को रास्ते में रोक कर उस पर तेजाब फेंक दिया। इस काम में उसकी एक सहेली ने भी साथ दिया।

ये मामला अहमदाबाद के बापूनगर इलाके का है। यहाँ 51 साल के राकेश ब्रह्मभट्ट पर उनकी पूर्व प्रेमिका महजबीन मोहसिन ने अपनी सहेली की मदद से तेजाब फेंक दिया। इस हमले में वो बुरी तरह से झुलस गए। उनके चेहरे, उनकी दाहिनी आँख, पीठ और प्राइवेट पार्ट वाला हिस्सा बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, राकेश अहमदाबाद में एएमटीएस में कंट्रोलर के पद पर काम करते हैं। वो पहले कंडक्टर के तौर पर काम करते थे, जहाँ 5 साल पहले उनकी पहचान महजबीन मोहसिनभाई चुवारा से हो गई थी। दोनों के बीच प्रेम संबंध भी स्थापित हो गए थे। महजबीन जुहापुरा में आयशा मस्जिद के पास अंजुम पार्की की रहने वाली है। दोनों के बीच 4 साल तक रिश्ता रहा, लेकिन घर वालों को पता चल गया। जिसकी वजह से एक 1 साल से दोनों अलग हो गए थे। हालाँकि महजबीन लगातार राकेश और उसके घरवालों को धमकाती रहती थी। वो एक दिन उसकी बेटी के घर भी धमक गई थी। और आखिरकार उसने एसिड से हमला कर ही दिया।

ऑपइंडिया के पास मौजूद एफआईआर की कॉपी के मुताबिक, शनिवार (27 जनवरी, 2024) को रात करीब 8:30 बजे राकेश पर अहमदाबाद के कालूपुर रेलवे स्टेशन के पास हमला हुआ। राकेश उस समय एएमटीएस कंट्रोल केबिन नंबर 7 पर ड्यूटी पर थे। उस दौरान महजबीन अपनी एक सहेली के साथ वहाँ पहुँची और उसने ‘तुम मुझसे रिश्ता क्यों नहीं रखते’ कहकर तेजाब से भरी केन राकेश के ऊपर फेंक दिया। तेजाब फेंकने से राकेश की दाहिनी आँख, पीठ और प्राइवेट पार्ट गंभीर रूप से झुलस गए। उसके चिल्लाने पर आसपास के लोग भी वहाँ जमा हो गए, जिसके बाद महजबीन और उसकी सहेली फरार हो गए। वहीं, स्थानीय लोगों ने राकेश को जीसीएस अस्पताल पहुँचाया।

राकेश ब्रह्मभट्ट की पत्नी ने ऑपइंडिया को बताया, “उनकी (राकेश ब्रह्मभट्ट) आँख में बहुत गंभीर चोट लगी है, हम प्रार्थना कर रहे हैं कि उनकी आँख बच जाए। अब उन्हें जीसीएस अस्पताल से सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।” पीड़ित की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 326(ए), 333 और 114 के तहत मामला दर्ज कर आगे की जाँच शुरू कर दी है। कालूपुर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है।

धर्म परिवर्तन का दबाव डाला गया

भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़ित राकेश ब्रह्मभट्ट ने बताया कि महजबीं ने उन्हें काफी परेशान किया। अब उसे अपनी आंखों से कुछ दिखाई भी नहीं देता। उन्होंने यह भी कहा कि महज़बीन ने पहले उनकी बेटी के घर में घुसने की कोशिश की थी और राकेश और उसके परिवार ने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। उसने यह भी आरोप लगाया है कि महजबीन उस पर धर्म परिवर्तन के लिए भी दबाव बना रही थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET-UG विवाद: क्या है NTA, क्यों किया गया इसका गठन, किस तरह से कराता है परीक्षाओं का आयोजन… जानिए सब कुछ

सरकार ने परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष संचालन को सुनिश्चित करने के लिए विशेषज्ञों की एक उच्च स्तरीय समिति की घोषणा की है

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -