Monday, May 27, 2024
Homeदेश-समाजबडगाम में चेक पोस्ट तोड़कर भाग रहे मेहराजुद्दीन की CRPF जवान की गोली से...

बडगाम में चेक पोस्ट तोड़कर भाग रहे मेहराजुद्दीन की CRPF जवान की गोली से हुई मौत, उमर अब्दुल्ला ने की जाँच माँग

जब कार चालक दूसरे नाके पर पहुँचा तो वहाँ पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने भी उसे रूकने का इशारा किया। लेकिन कार चालक ने वहाँ पर भी रूकने के बजाए वह नाका भी तोड़ दिया। इसके बाद नाके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों को कार में संदिग्ध आतंकियों के छिपे होने का संदेह हुआ और उन्होंने कार की ओर फायरिंग शुरू कर दी।

जम्मू कश्मीर के बडगाम में बुधवार (मई 12, 2020) को चेकपोस्ट से भाग रहे मेहराजुद्दीन की CRPF जवान की गोली से मौत हो गई है। यह हादसा तब हुआ जब मेहराजुद्दीन नारबल के कावूसा खलिसा गाँव के पास बने चेक पोस्ट को तोड़कर भाग रहा था।

सुरक्षाबलों ने उसे रोकने की कोशिश की तो वह रुकने के बजाए कार की स्पीड बढ़ाकर भागने लगा। और तभी CRPF के जवान ने गोली चला दी, जिसमें मेहराजुद्दीन की मौत हो गई।

यह घटना आज सुबह श्रीनगर-गुलमर्ग हाइवे पर स्थित नारबल इलाके में घटी। नारबल के पास कावूसा खलिसा गाँव के बाहरी सड़क पर नाके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने एक कार काे रूकने का संकेत किया लेकिन कार चला रहा मेहराजुद्दीन उनके इशारे को नजरंदाज करते हुए तेजगति के साथ आगे निकल गया।

जब कार चालक दूसरे नाके पर पहुँचा तो वहाँ पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने भी उसे रूकने का इशारा दिया। लेकिन कार चालक ने वहाँ पर भी रूकने के बजाए वह नाका भी तोड़ दिया। इसके बाद नाके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों को कार में संदिग्ध आतंकियों के छिपे होने का संदेह हुआ और उन्होंने कार की ओर फायरिंग शुरू कर दी।

CRPF के जवानों की एक गोली कार चला रहे मेहराजुद्दीन के कंधे और सीने में लगी और वह गंभीर रुप से घायल हो गया। सुरक्षाकर्मियों ने कार रुकने के बाद उस घाायल पड़े चालक को उठाया और इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल लेकर गए, जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया।

मेहराजुद्दीन बडगाम जिले में मकहामा खाग का रहने वाला था। एसएसपी अनंतनाग ने मामले की जाँच के आदेश दे दिए हैं। इस घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी।

इस घटना के बाद जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने रोष व्यक्त करते हुए जाँच की माँग की है। रिपोर्ट्स के अनुसार, इस घटना के बाद स्थानीय लोग विरोध में सड़क पर उतर आए और वहाँ हंगामा शुरू कर दिया।

इसके बाद पुलिस ने किसी तरह से वहाँ मौजूद लोगों को समझाकर शांत किया। उमर अब्दुल्ला ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है और ट्विट कर के इसकी निष्पक्ष जाँच की माँग की है।

उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर लिखा है – “बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण, इस घटना के आस-पास की परिस्थितियों की निष्पक्ष जाँच की जानी चाहिए और तथ्यों को सामने लाया जाना चाहिए। मृतक के परिवार के प्रति मेरी संवेदना।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 साल बाद KKR ने जीता IPL का खिताब, तीसरी बार चैंपियन बने: सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हराया, 10 ओवरों में किया...

आईपीएल 2024 का फाइनल मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स ने जीत लिया। कोलकाता ने फाइनल मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को आठ विकेट से हराया।

‘मुस्लिम बस्ती में रहना है तो बनो मुसलमान, हिंदू देवताओं की पूजा बंद करो’ : फतेहपुर के शिव-कविता की घरवापसी की कहानी, 20 साल...

शिव और कविता वाराणसी के रहने वाले थे, लेकिन रोजगार की तलाश में वो फतेहपुर आ गए। यहाँ उन्हें मकान देने वाले अमिल शेख ने मजबूर करके इस्लाम कबूल करवाया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -