Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजमोहम्मद सरफुद्दीन की चिकन बिरयानी शॉप पर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान: कारीगर तिरंगे से...

मोहम्मद सरफुद्दीन की चिकन बिरयानी शॉप पर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान: कारीगर तिरंगे से उतार रहा था पका मांस, रोकने वालों को देने लगा गालियाँ, पुलिस ने दबोचा

ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। दोनों आरोपितों के खिलाफ IPC की धारा 504 के साथ राष्ट्र गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 की धारा 2 के तहत कार्रवाई की गई है। हिन्दू संगठनों ने इस हरकत पर नाराजगी जताई है। उन्होंने पुलिस से दोनों आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के साथ सरफुद्दीन के होटल की वैधानिकता की भी जाँच करने की माँग उठाई है।

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में मंगलवार (4 जून 2024) को राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान करने का मामला सामने आया। यह अपमान चिकन बिरयानी बेचने वाले मोहम्म्द सरफुद्दीन की दुकान पर किया गया है। मुरादाबादी चिकन कॉर्नर नाम की इस दुकान पर कारीगर साहब ने राष्ट्रीय ध्वज से कड़ाही उतारी। दुकान के पास से गुजर रहे एक हिन्दू युवक ने जब ऐसा करने से रोका तो उसे गालियाँ दी गईं।

पुलिस ने सरफुद्दीन और साहब को हिरासत में ले लिया है। दोनों के खिलाफ FIR दर्ज करके जाँच की जा रही है। यह घटना बरेली जिले के थाना क्षेत्र इज्जतनगर की है। यहाँ 4 जून को आदित्य मौर्य नाम के युवक ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। आदित्य ने बताया कि 4 जून को वो अपने एक साथी वकील के साथ बरेली के कर्मचारी नगर से गुजर रहे थे।

इसी दौरान आदित्य ने देखा कि मुरादाबादी चिकन कॉर्नर नाम की एक नॉनवेज की दुकान पर एक व्यक्ति पके मांस से भरी कड़ाही उठा रहा था। आदित्य ने आरोपित को ऐसा करने से रोका तो वह गालियाँ देने लगा। वह समझाने पर भी मानने को तैयार नहीं हुआ। आदित्य ने बताया कि कारीगर की हरकत से राष्ट्र ध्वज काफी गंदा हो चुका था। उन्होंने दुकान के कारीगर से तिरंगे को माँगा, लेकिन नहीं दी।

इस दौरान उन्होंने आदित्य को गालियाँ देना जारी रखा। आख़िरकार आदित्य ने 112 नंबर डायल करके पुलिस बुलाई। पुलिस ने राष्ट्र ध्वज को कब्ज़े में ले लिया। आरोपितों की वीडियोग्राफ़ी भी की गई। दुकान मालिक का नाम मोहम्मद सरफुद्दीन और कारीगर का नाम साहब है। दोनों को हिरासत में लेकर चालान कर दिया गया है। मामले की जाँच व अन्य जरूरी कार्रवाई की जा रही है।

ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। दोनों आरोपितों के खिलाफ IPC की धारा 504 के साथ राष्ट्र गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 की धारा 2 के तहत कार्रवाई की गई है। हिन्दू संगठनों ने इस हरकत पर नाराजगी जताई है। उन्होंने पुलिस से दोनों आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के साथ सरफुद्दीन के होटल की वैधानिकता की भी जाँच करने की माँग उठाई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -