Saturday, May 25, 2024
Homeदेश-समाजआगरा का 'मुगल रोड' हुआ 'महाराजा अग्रसेन मार्ग', 'सुल्तानगंज की पुलिया' बना 'विकल चौक':...

आगरा का ‘मुगल रोड’ हुआ ‘महाराजा अग्रसेन मार्ग’, ‘सुल्तानगंज की पुलिया’ बना ‘विकल चौक’: यूपी में गुलामी के प्रतीकों को हटाने की प्रक्रिया जारी

प्रदेश की योगी सरकार ने साल 2018 में यूपी कैबिनेट की बैठक में इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने का निर्णय लिया था। वहीं, फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में आगरा शहर के ‘मुगल रोड’ का नाम बदलकर ‘महाराजा अग्रसेन मार्ग’ कर दिया गया है। इसके साथ ही ‘सुल्तानगंज की पुलिया’ का भी नाम बदल दिया गया है। अब यह पुलिया ‘विकल चौक’ के नाम से जानी जाएगी। यह सब स्थानीय लोगों और महाराजा अग्रसेन के अनुयायियों की माँग को देखते हुए किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, आगरा के महापौर नवीन जैन ने शुक्रवार को इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सड़क के किनारे स्थित कमला नगर के लोग लंबे समय से मुगल रोड का नाम बदलने की माँग कर रहे थे। महापौर का कहना है कि 27 सितंबर 2021 को इस मामले में आगरा नगर निगम की कार्यकारी समिति में प्रस्ताव लाया गया था, जिसे निकाय के सदन ने मंजूरी मिल गई।

जैन यह भी कहा कि विकल चौक से कमला नगर की सड़क का नाम मुगल रोड कैसे पड़ा ये तो नहीं पता, लेकिन भावी पीढ़ी इस सड़क का नाम महाराज अग्रसेन पर होने से प्रेरणा लेगी। वार्ड नंबर 75 की पार्षद सुषमा जैन ने इसे सम्मान की बात बताया। उन्होंने कहा, “मुगल रोड गुलामी का प्रतीक था, लेकिन महाराजा अग्रसेन का नाम आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करेगा।”

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में इससे पहले भी कई शहरों का नाम बदला गया है। प्रदेश की योगी सरकार ने साल 2018 में यूपी कैबिनेट की बैठक में इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने का निर्णय लिया था। वहीं, फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया है। इसके अलावा, इसी साल अगस्त में चूड़ियों के लिए मशहूर फिरोजाबाद का नाम बदलकर चंद्रनगर करने का प्रस्ताव जिला पंचायत ने पास किया था। विद्वान अनूप चंद जैन के मुताबिक, फिरोजाबाद का पुराना नाम चंदवाड़ था, लेकिन अकबर के शासनकाल में उसके करिंदे फिरोजशाह के नाम पर इसका नाम बदलकर 1566 में फिरोजाबाद कर दिया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

OBC आरक्षण में मुस्लिम घुसपैठ पर कलकत्ता हाई कोर्ट का फैसला देश की आँख खोलने वाला: PM मोदी ने कहा – मेहनती विपक्षी संसद...

पीएम मोदी ने कहा कि मेरे लिए मेरे देश की 140 करोड़ जनता साकार ईश्वर का रूप है। सरकार और राजनीति दलों को जनता प्रति उत्तरदायी होना चाहिए।

SFI के गुंडों के बीच अवैध संबंध, ड्रग्स बिजनेस… जिस महिला प्रिंसिपल ने उठाई आवाज, केरल सरकार ने उनका पैसा-पोस्ट सब छीना, हाई कोर्ट...

कागरगोड कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ रेमा एम ने कहा था कि उन्होंने छात्र-छात्राओं को शारीरिक संबंध बनाते देखा है और वो कैंपस में ड्रग्स भी इस्तेमाल करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -