Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश-समाजनगमा खान आई, छीन कर ले गई बुढ़ापे का इकलौता सहारा: जो काँवड़ लेकर...

नगमा खान आई, छीन कर ले गई बुढ़ापे का इकलौता सहारा: जो काँवड़ लेकर जाता था वो अब पढ़ता है नमाज, रोते हुए पिता ने CM योगी से लगाई गुहार

हमसे बातचीत के दौरान मुकेश ने दावा किया है कि उनके बेटे के खिलाफ हो रहे धर्मांतरण के प्रयास में दिल्ली का एक मौलवी भी शामिल है। ये मौलवी गौरव की बीमारियों के झाड़-फूँक का दावा करता है। नगमा मुकेश से अपने अब्बा को भी पहुँचा हुआ मौलवी बताती है।

उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक नगमा खान उर्फ़ रोशनी नाम की मुस्लिम महिला पर हिन्दू युवक का धर्मांतरण करवाने का आरोप लगा है। युवक का नाम गौरव है जिसके पिता ने अपने बेटे को वापस पाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई है। ऑपइंडिया को दिए एक इंटरव्यू में पीड़ित के पिता इस घटना के बाद आरोपित महिला द्वारा खुद के ही खिलाफ शिकायत देने और प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। साथ ही उन्होंने कहा कि नगमा की वजह से उनका इकलौता बेटा और उनके बुढ़ापे का सहारा उनसे छिन गया है।

पीड़ित हिन्दू परिवार मूल रूप से अलीगढ़ के जवा थाना क्षेत्र का निवासी है। वह फिलहाल नोएडा के सेक्टर 44 में रहता है। लड़के के पिता का नाम मुकेश कुमार है। मुकेश के पास गौरव के अलावा एक बेटी है। वो एक शिक्षण संस्थान में काम कर के अपना परिवार पालते हैं। ऑपइंडिया से बातचीत में उन्होंने बताया है कि उनका बेटा गौरव बॉक्सिंग कोच है। पहले वो बेहद धार्मिक विचारधारा का था जो हर साल ‘हर हर महादेव’ कह कर काँवड़ लेकर हरिद्वार जाया करता था।

गौरव की एक पुरानी तस्वीर

मुकेश ने हमें आगे बताया कि परिवार के ख़र्च में हाथ बँटाने के लिए लगभग 22 वर्षीय गौरव नोएडा के पार्कों में बच्चों को आत्मरक्षा आदि के लिए बॉक्सिंग सिखाने लगा। गौरव अच्छा बॉक्सर था जो कई प्रतियोगिताओं में विजेता भी रहा है। पार्क में चलने वाली क्लास कई अभिभावकों ने अपने बच्चों को भेजना शुरू कर दिया। इनमें से एक नगमा खान नाम की भी महिला थी। नगमा की लगभग 7 वर्षीया बेटी भी गौरव से बॉक्सिंग सीखने अपनी अम्मी के साथ आया करती थी।

नोएडा का वो पार्क जहाँ बच्चों को बॉक्सिंग सिखाता था गौरव

बकौल मुकेश, नगमा उनके बेटे से कम से कम 15 साल बड़ी है और अपने 2 बच्चों के साथ पति से अलग रहती है। नगमा 4 बच्चों की अम्मी थी लेकिन किसी कारणवश 2 बच्चों की मौत हो गई थी। नगमा की दूसरी बेटी 1 साल की है। मुकेश ने हमें आगे बताया कि कुछ दिनों बाद पार्क में मिले गौरव और नगमा की आपस में बातें होने लगीं। आरोप है कि धीरे-धीरे नगमा ने गौरव को अपने चंगुल में फँसा लिया। गौरव के न सिर्फ धार्मिक सोच में बदलाव आने लगा था बल्कि वो अपने परिवार वालों से भी अलग रहने लगा था। वह बॉक्सिंग कम्पटीशन का बहाना बना कर कई-कई दिनों तक घर से बाहर रहता था।

मुकेश का दावा है कि उनका बेटा असल में बॉक्सिंग कम्पटीशन में नहीं बल्कि नगमा के साथ रहता था। थोड़े दिनों बाद गौरव घर में नमाज़ पढ़ने लगा और इस्लामी वेशभूषा में रहना शुरू कर दिया। जब मुकेश ने गौरव के इस बदले व्यवहार की जाँच की तब उन्हें नगमा के बारे में पता चला। हमसे बात करते हुए उन्होंने आरोप लगाया है कि नगमा सिर्फ उनके बेटे ही नहीं बल्कि कई और हिन्दू लड़कों को इसी तरफ से अपने जाल में फँसा चुकी है। हमसे बातचीत में गौरव के पिता ने बताया कि वो अपने बेटे को वापस लाने के लिए जब नगमा से बात किए तब आरोपित महिला द्वारा उनको ही धमकियाँ दी जाने लगीं।

इस बीच मुकेश ने अगस्त 2023 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक शिकायत भेज कर नगमा पर अपने बेटे को निकाह के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने अपनी शिकायत में यह भी बताया है कि नगमा अपने भाई आज़ाद खान को एक बड़ा गुंडा बताते हुए उनके परिवार को भी खत्म करवा देने की धमकी दिया करती हैं। शिकायतकर्ता ने अपने बेटे को नगमा से जान का खतरा बताया है और खुद से न मिलने देने की बात कही है। पीड़ित पिता ने अपने बेटे के धर्मांतरण की आशंका जताते हुए इस मामले में प्रशासनिक हस्तक्षेप की भी माँग की है।

शिकायत कॉपी

गौरव के पिता ने हमें आगे बताया कि उनके द्वारा दी गई शिकायत पर नोएडा पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने बुलवाया था। हालाँकि, आखिर में उनके बेटे की तरफ से नगमा के साथ स्वेच्छा से रहने की इच्छा जताई गई। इस मामले में पुलिस ने नियमानुसार कार्रवाई की और दोनों पक्षों को विवाद से बचने की हिदायत भी दी। हालाँकि, इसके बाद गौरव नगमा के साथ ही रहा। पीड़ित पिता का आरोप है कि वो जिस भी नंबर से अपने बेटे से बात करने की कोशिश करते हैं उसे नगमा ब्लॉक कर देती है।

मुकेश के अनुसार, नगमा उनके बेटे से हिन्दू धर्म को पाखंड और इस्लाम को जन्नत वाला मज़हब बताती है। हमसे आगे बातचीत के दौरान मुकेश रोने लगे। उन्होंने अपने बेटे को ‘लव जिहाद’ और धर्मांतरण की एक बड़ी साजिश में फँसा बताया और कहा कि नगमा ने उनके बुढ़ापे का एकमात्र सहारा भी छीन लिया। उनका दावा है कि अगर वो अपने बेटे से बात करें तो उसको समझा सकते हैं। हालाँकि, नगमा उन्हें गौरव से मिलने भी नहीं दे रही है। न तो मिलने दे रही है और न ही बात करने। थाने में नगमा की तरफ से बोलना उन्होंने अपने बेटे की मजबूरी और उस पर बने दबाव को बताया।

दिल्ली का मौलवी भी शामिल

हमसे बातचीत के दौरान मुकेश ने दावा किया है कि उनके बेटे के खिलाफ हो रहे धर्मांतरण के प्रयास में दिल्ली का एक मौलवी भी शामिल है। ये मौलवी गौरव की बीमारियों के झाड़-फूँक का दावा करता है। नगमा मुकेश से अपने अब्बा को भी पहुँचा हुआ मौलवी बताती है। वो कहती है, “मेरे अब्बा इंसान को बकरी बना सकते हैं।” मुकेश का यह भी दावा है कि नगमा ने अभी तक अपने पहले शौहर को तलाक भी नहीं दिया है। उन्होंने नगमा की माँ पर भी बीते समय में किसी हिन्दू से ही निकाह कर के उसके साथ अपने बेटे जैसी ही हरकत किए जाने का आरोप लगाया।

पहले हाथ में कलावा, अब सिर पर नमाजी टोपी

मुकेश ने हमें अपने बेटे की कई तस्वीरें और वीडियो भी भेजे। कुछ तस्वीरें नगमा के सम्पर्क में आने से पहले की हैं। इनमें गौरव के हाथ में मोटा कलावा और माथे पर तिलक देखा जा सकता है। एक तस्वीर में वो अपनी बहन के साथ काफी खुश नजर आ रहा है जबकि दूसरी में वो काँवड लिए दिख रहा। वहीं नगमा से मुलाकात के बाद वाली तस्वीरों में गौरव सिर पर नमाज़ी टोपी रख कर इस्लामी अंदाज में कोई मजहबी किताब पढ़ता दिखाई दे रहा है। इन वीडियो में गौरव के साथ नगमा भी दिख रहीं हैं जो उसे ये सब सिखाती नजर आ रहीं हैं।

गौरव और नगमा

नगमा ने मुकेश पर किया केस

मुकेश ने ऑपइंडिया को बताया कि नगमा ने न सिर्फ उन से उनका बेटा छीन लिया है बल्कि अब उल्टे उनके ही परिवार वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत करवा दी है। नगमा की शिकायत पर गौरव को नोएडा के महिला थाना में 16 सितंबर 2023 को हाजिर होने का निर्देश भी मिला था। मुकेश जब पुलिस के पास गए तो उन्हें फिर से किसी भी प्रकार के वाद-विवाद से दूर रहने की हिदायत दी गई।

नगमा की शिकायत पर गौरव को मिली नोएडा पुलिस की नोटिस

नगमा का आरोप है कि मुकेश ने अपने बेटे यानि उनके पति गौरव को उनसे छीन कर अपने पास रख लिया है। हालांकि अपनी सफाई में मुकेश का कहना है कि उन्हें अपने बेटे के बारे में कोई जानकारी नहीं है। मुकेश अब बेटे एकलौते बेटे की सुरक्षा को ले कर भी चिंतित हैं और इस शिकायत को नगमा की कोई बड़ी साजिश मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि 7 माह से वो अपने बेटे से मिल नहीं पाए हैं। शासन प्रशासन से उन्होंने अपने बेटे को वापस दिलाने की गुहार लगाई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -