500+ महिला एवं लड़की काँवड़ियों पर मस्जिद के पास से पथराव, बचाने आई पुलिस को दौड़ाया

"काँवड़ियों पर पथराव करते हुए राष्ट्र विरोधी नारे भी लगाए गए" - यह दावा प्रत्यक्षदर्शियों का है।

बिहार के मुजफ्फरपुर में बरुराज थाना क्षेत्र में सावन के दूसरे सोमवार को जल भरने जा रहे श्रद्धालुओं पर कुछ अराजक तत्वों द्वारा पथराव किया गया। जब बीच-बचाव के लिए पुलिस आई तो उनके साथ भी दुर्व्यवहार हुआ।

दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक एसडीएम अनिल कुमार दास ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि जब महिला श्रद्धालु यहाँ मस्जिद के पास से गुजर रहीं थीं, तभी कुछ लोगों ने उन पर पथराव किया।

इस घटना में जब बीच-बचाव करने पुलिस पहुँची तो मोतीपुर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर की वर्दी पर लगे स्टार को भी नोचने का प्रयास किया गया। यहाँ इस दौरान पुलिस वालों के साथ गाली-गलौच भी की गई। उन्हें डंडा लेकर दौड़ाया भी गया। लेकिन पुलिस ने फिर भी अपनी समझदारी से जल लेने जा रही तकरीबन 500 से भी ज्यादा महिला और बच्चियों को निकालकर सुरक्षित तिरहुत मुख्य नहर से पुल तक पहुँचाया। इस दौरान हालात को काबू में करने के लिए एसटीएफ के जवानों को भी बुलाना पड़ा।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

जानकारी के मुताबिक इलाके में बढ़ती अराजकता को देखते हुए श्रद्धालुओं को दूसरे मार्ग से निकालकार मंदिर परिसर में पहुँचाया गया। कुछ लोगों ने दावा किया कि पथराव करते हुए इलाके में राष्ट्र विरोधी नारे भी लगाए गए, लेकिन फिलहाल जिला प्रशासन को अभी इस दावे के कोई पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं। एसडीएम ने आश्वासन दिया है कि अगर उन्हें देश विरोधी नारे लगाने के बारे में सबूत मिलेंगे तो वे इस पर कड़ी कार्रवाई करेंगे।

बता दें कि एसडीएम के मुताबिक इसी इलाके में पिछले रविवार को धार्मिक कार्यक्रम की घोषणा करते कुछ अन्य लोगों को भी पीटा गया था। जिसके बाद जिला प्रशासन ने हिंदू और समुदाय विशेष के लोगों के साथ बैठक की थी और तय किया था कि दोनों समुदाय शांति के साथ रहेंगे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,017फैंसलाइक करें
22,546फॉलोवर्सफॉलो करें
118,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: