Thursday, May 23, 2024
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ में फिर से एनकाउंटर, 9 (2 महिला) नक्सलियों के शव मिले: हथियारों का...

छत्तीसगढ़ में फिर से एनकाउंटर, 9 (2 महिला) नक्सलियों के शव मिले: हथियारों का जखीरा भी बरामद, पिछली बार ढेर हुए थे 29

मुठभेड़ की जगह से कई नक्सलियों के शव बरामद हो चुके हैं, जिसमें कम से कम 2 महिला नक्सली भी शामिल हैं। ये ऑपरेशन एसटीएफ और नायारणपुर डीआरजी ने चलाया।

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के गढ़ माने जाने वाले अबूझमाड़ में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। अबूझमाड़ के जंगलों में एसटीएफ और नारायणपुर डीआरजी की टीम की नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुई है, जिसमें 10 से ज्यादा नक्सलियों के मारे जाने की सूचना मिल रही है। ये मुठभेड़ अभी जारी है। इस बीच, सुरक्षा बलों ने 2 महिला नक्सलियों समेत 9 शव बरामद कर लिए हैं। नक्सलियों के पास से भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद भी बरामद हुए हैं। बता दें कि 16 अप्रैल 2024 को कांकेर में 25 लाख के ईनामी समेत 29 नक्सली ढेर हुए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये मुठभेड़ छत्तीसगढ़ के नारायणपुर और कांकेर जिले की सीमा पर स्थित अबूझमाड़ में हुई है। बस्तर रेंज के आईजी पी सुंदरराज ने बताया कि दोनों जिलों के सीमाई इलाके में स्थित अबूझमाड़ में स्पेशल टास्क फोर्स और डीआरजी नायारणपुर की टीम की नक्सलियों से मुठभेड़ हुई। ये मुठभेड़ अभी तक जारी है। मुठभेड़ की जगह से कई नक्सलियों के शव बरामद हो चुके हैं, जिसमें कम से कम 2 महिला नक्सली भी शामिल हैं। आजतक ने मारे गए नक्सलियों की संख्या 7 बताई है।

इस बीच, छत्तीसगढ़ के उप-मुख्यमंत्री विजय शर्मा ने कहा कि वर्दीधारी नक्सलियों के पास से भारी मात्रा में हथियार और राशन भी मिला है। हमारे सभी जवान सुरक्षित हैं। उन्होंने 5-7 नक्सलियों के मारे जाने की बात कही। वहीं, एएनआई ने बताया है कि इस मुठभेड़ में 9 नक्सलियों के शव बरामद किए जा चुके हैं। इस मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों की संख्या 9 से अधिक है।

बता दें कि 16 अप्रैल 2024 को भी कांकेर में नक्सलियों को बड़ा नुकसान पहुँचा था। बीएसएफ ने स्पेशल ऑपरेशन में टॉप कमांडर समेत 29 नक्सलियों को ढेर कर दिया था। उस मुठभेड़ में नक्सलियों का टॉप कमांडर और 25 लाख का ईनामी नक्सली शंकर राव भी ढेर हुआ था, तो महिला नक्सली कमांडर ललिता भी मारी गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘प्यार से माँगते तो जान दे देती, अब किसी कीमत पर नहीं दूँगी इस्तीफा’: स्वाति मालीवाल ने राज्यसभा सीट छोड़ने से किया इनकार

आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने अब किसी भी हाल में राज्यसभा से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

‘टेबल पर लगा सिर, पैर पकड़कर नीचे घसीटा’: विभव कुमार ने CM केजरीवाल के घर में कैसे पीटा, स्वाति मालीवाल ने अब कैमरे पर...

स्वाति मालीवाल ने बताया कि जब उन्होंने विभव कुमार को धक्का देने की कोशिश की तो उन्होंने उनका पैर पकड़ लिया और नीचे घसीट दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -