Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजनक्सलियों ने जारी किया बंधक जवान का फोटो, भाई ने कहा - 'भरोसा नहीं,...

नक्सलियों ने जारी किया बंधक जवान का फोटो, भाई ने कहा – ‘भरोसा नहीं, ऑडियो या वीडियो जारी करें’

कोबरा जवान राकेश्वर के भाई रणजीत सिंह ने कहा - "इस फोटो पर संदेह है। यह फोटो राकेश्वर के मोबाइल की कोई पुरानी फोटो भी हो सकती है। राकेश्वर का ऑडियो अथवा वीडियो जारी करें।"

बीजापुर में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में 23 जवान बलिदान हो गए थे तथा 31 जवान घायल हुए थे। एक जवान, राकेश्वर सिंह मनहास के लापता होने की खबर भी आई थी। अब नक्सलियों ने बंधक बनाए गए जवान राकेश्वर की फोटो जारी की है और कहा है कि सरकार बातचीत के लिए मध्यस्थ की नियुक्ति करे, जिसके बाद राकेश्वर को छोड़ दिया जाएगा। हालाँकि राकेश्वर के भाई ने कहा है कि उन्हें इस फोटो पर भरोसा नहीं है। नक्सली राकेश्वर का वीडियो अथवा ऑडियो जारी करें।  

सीआरपीएफ के सूत्रों ने भी यह पुष्टि की है कि तस्वीर में दिखाई देने वाले शख्स कोबरा जवान राकेश्वर सिंह मनहास ही हैं और सीआरपीएफ उनकी रिहाई के प्रयास कर रही है।

इसी बीच बीजापुर के एक पत्रकार गणेश मिश्रा ने यह दावा किया है कि उसके पास नक्सलियों के दो फोन कॉल आए, जिसमें उन्होंने बताया कि एक जवान उनके पास बंधक है। वह गोली लगने के कारण घायल है और उसका इलाज चल रहा है और उसे दो दिनों में रिहा कर दिया जाएगा। गणेश के मुताबिक नक्सलियों ने यह भी कहा कि जल्द ही जवान का फोटो और वीडियो जारी किया जाएगा।

हालाँकि कोबरा जवान राकेश्वर के भाई रणजीत सिंह का कहना है कि उन्हें इस फोटो पर संदेह है। यह फोटो राकेश्वर के मोबाइल की कोई पुरानी फोटो भी हो सकती है। रणजीत ने राकेश्वर का ऑडियो अथवा वीडियो जारी करने की माँग भी की है।

3 अप्रैल 2021 को सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ के बाद अब नक्सलियों के द्वारा प्रेस नोट जारी करके हमले की पुष्टि की गई है और एक जवान के उनके कब्जे में होने की बात कही है। नक्सलियों द्वारा शर्त रखी गई है कि सरकार बातचीत के लिए मध्यस्थ की नियुक्ति करे, जिसके बाद जवान को रिहा कर दिया जाएगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe