Wednesday, June 29, 2022
Homeदेश-समाजनेहा को मार कर सूटकेस में भरकर फेंक दिया: लुकमान के साथ लिव-इन में...

नेहा को मार कर सूटकेस में भरकर फेंक दिया: लुकमान के साथ लिव-इन में थी, नोमान, अरमान, शमसाद गिरफ्तार

घटना के दो दिन पहले दोनों के बीच एक झगड़ा हुआ। इसके बाद लुकमान और उसके भाइयों ने नेहा की हत्या कर दी और उसकी लाश को बवाना ले जाकर ठिकाने लगा दिया। पुलिस ने बताया कि लुकमान को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.....

दिल्ली पुलिस ने 18 वर्षीया महिला की हत्या कर उसकी लाश सूटकेस में भर कर ठिकाने लगाने के आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों के नाम नोमान, अरमान और शमसाद बताए जा रहे हैं। तीनों की उम्र क्रमशः 30, 26 और 30 साल बताई जा रही है।

पुलिस के अनुसार नेहा की लाश पिछले महीने (अक्टूबर, 2019) की 18 तारीख (शुक्रवार) को एक सूटकेस में भर कर सुबह बरामद हुई थी। वह उसी दिन से गायब भी बताई जा रही थी। जिस इलाके (बवाना) में यह बरामदगी हुई, वह उत्तरी दिल्ली का बाहरी इलाका है। नेहा को शकूरपुर की रहने वाली बताया जा रहा है, जबकि आरोपितों में नोमान के नॉएडा, अरमान के शकूरपुर में ही और शमसाद के न्यू उस्मानपुर में रहने की बात मीडिया रिपोर्टों में आ रही है। इन सभी की गिरफ़्तारी आज ही (शनिवार, 2 नवंबर, 2019 को) हुई है।

जब नेहा की लाश बरामद हुई तो पुलिस ने आसपास के कैमरों की सीसीटीवी फुटेज खंगालनी शुरू कर दी। ऐसी ही एक तफ्तीश में पुलिस को पता चल कि लाश को वहाँ फेंकने ऑटो रिक्शा में बैठकर कोई आया था। टाइम्स ऑफ़ इंडिया में प्रकाशित एक रिपोर्ट में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के हवाले से दावा किया गया है कि नेहा लुकमान नामक एक लड़के के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में पिछले एक महीने से रह रही थी। इस रिपोर्ट में पुलिस अधिकारी के नाम का खुलासा नहीं किया गया है।

पुलिस ने जब शकूरपुर में जहाँ लुकमान का घर था, उसके आस पास के इलाके की सीसीटीवी फुटेज की जाँच की तो उसमें लुकमान के दो भाई अरमान और नोमान 17 और 18 अक्टूबर, 2019 के बीच की रात में एक ट्राली बैग खींचते हुए देखे गए। इसके बाद पुलिस ने कल (शुक्रवार, 1 नवंबर, 2019 को) अरमान, नोमान और शमसाद को गिरफ्तार कर लिया।

उन तीनों से हुई पूछताछ में पता चला कि नेहा लुकमान के बर्ताव से आजिज आ चुकी थी। वह लुकमान से अपने संबंध खत्म करना चाहती थी।

घटना के दो दिन पहले (16 अक्टूबर, 2019 को) दोनों के बीच एक झगड़ा हुआ। इसके बाद लुकमान और उसके भाइयों ने नेहा की हत्या कर दी और उसकी लाश को बवाना ले जाकर ठिकाने लगा दिया। पुलिस ने बताया कि हालाँकि लुकमान को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है, लेकिन प्रयास जारी हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इस्लाम ज़िंदाबाद! नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं’: कन्हैया लाल का सिर कलम करने का जश्न मना रहे कट्टरवादी, कह रहे – गुड...

ट्विटर पर एमडी आलमगिर रज्वी मोहम्मद रफीक और अब्दुल जब्बार के समर्थन में लिखता है, "नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं।"

कमलेश तिवारी होते हुए कन्हैया लाल तक पहुँचा हकीकत राय से शुरू हुआ सिलसिला, कातिल ‘मासूम भटके हुए जवान’: जुबैर समर्थकों के पंजों पर...

कन्हैयालाल की हत्या राजस्थान की ये घटना राज्य की कोई पहली घटना भी नहीं है। रामनवमी के शांतिपूर्ण जुलूसों पर इस राज्य में पथराव किए गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,225FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe