Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजबंगाल में ED के बाद अब NIA की टीम पर हमला: ब्लास्ट केस में...

बंगाल में ED के बाद अब NIA की टीम पर हमला: ब्लास्ट केस में TMC नेता का नाम, गिरफ्तार करने पहुँची जाँच एजेंसी तो गाड़ी पर ताबड़तोड़ बरसाई ईंटें

बता दें कि 3 दिसंबर, 2022 को भूपतिनगर में एक धमाका हुआ था, जिसमें एक घर की पूरी की पूरी छत ही उड़ गई थी। 3 लोगों की मौत हुई थी।

पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर में NIA (राष्ट्रीय जाँच एजेंसी) की टीम पर हमला किया गया है। घटना पूर्वी मिदनापुर के भूपतिनगर की है, जहाँ शनिवार (6 अप्रैल, 2024) की सुबह 2022 के एक ब्लास्ट केस की जाँच करने के लिए NIA पहुँची थी। इस मामले में राज्य की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) का एक नेता आरोपित है, जिसके ठिकाने पर पहुँचते ही जाँच एजेंसी की टीम को निशाना बनाया गया। NIA टीम की कार पर ईंटें फेंकी गईं, जिससे गाड़ी की खड़की क्षतिग्रस्त हो गई।

तड़के सुबह साढ़े 5 बजे इस घटना को अंजाम दिया गया। इसमें एक अधिकारी के घायल होने की भी सूचना आ रही है। बता दें कि 3 दिसंबर, 2022 को भूपतिनगर में एक धमाका हुआ था, जिसमें एक घर की पूरी की पूरी छत ही उड़ गई थी। 3 लोगों की मौत हुई थी। NIA ने पिछले महीने ममता बनर्जी की पार्टी TMC के 8 नेताओं को इस मामले में पूछताछ के लिए समन भेजा था। तृणमूल कॉन्ग्रेस कह रही है NIA भाजपा के इशारों पर काम कर रही है।

न्यू टाउन एरिया में इन नेताओं को 28 मार्च को ही पेश होने के लिए कहा गया था, लेकिन इन्होंने समन को धता बता दिया। TMC नेता कुणाल घोष ने इन सबके पीछे BJP का हाथ बताया है। याद दिला दें कि 2 महीने पहले पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में राशन घोटाले में फँसे शाहजहाँ शेख को गिरफ्तार करने गई ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम पर हमला हुआ था। बाद में शाहजहाँ शेख और उसके गुर्गों द्वारा संदेशखाली में बड़े पैमाने पर जनजातीय समाज की महिलाओं के यौन शोषण का खुलासा हुआ।

छापेमारी के दौरान तलाशी अभियान चलाते हुए NIA की टीम पर ताज़ा हमला हुआ। ‘इंडिया टुडे’ ने NIA के सूत्रों के हवाले से बताया है कि स्थानीय पुलिस थाने को इस छापेमारी के संबंध में पहले ही सूचित कर दिया गया था, लेकिन सुरक्षा के उचित इंतजाम नहीं किए गए थे। इसके बाद NIA की टीम ने बैकअप बुलाया। मानवेन्द्र जना और अज्ञातों के खिलाफ जाँच एजेंसी ने स्थानीय थाने में शिकायत दी है। नरयाबिला गाँव में हुए ब्लास्ट के संबंध में मबवण्डर जना को गिरफ्तार करने NIA पहुँची थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -