Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाज'नित्यानंद से मत उलझो, कोई बेवकूफ अदालत मुझ पर मुकदमा नहीं चला सकती, मैं...

‘नित्यानंद से मत उलझो, कोई बेवकूफ अदालत मुझ पर मुकदमा नहीं चला सकती, मैं परम शिवा हूँ’

मैं परम शिवा हूँ, समझे। सच का खुलासा करने के लिए कोई बेवकूफ अदालत मुझ पर मुकदमा नहीं कर सकती। मैं परम शिवा हूँ।"

मोदी सरकार द्वारा पासपोर्ट रद्द किए जाने के बाद बलात्कार और यौन शोषण के आरोपित स्वामी नित्यानंद का सोशल मीडिया पर एक विवादित वीडियो वायरल हुआ है। इस वीडियो में नित्यानंद खुद को ‘परम शिवा’ बताते नजर आ रहे हैं और कह रहे हैं कि कोई भी “बेवकूफ अदालत” उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकती।

वीडियो में नित्यानंद को कहते सुना जा सकता है, “पूरी दुनिया मेरे खिलाफ है। मैं कहता हूँ नित्यानंद से मत उलझो। लेकिन, अगर तुम यहाँ होकर मुझे अपनी निष्ठा दिखाते हो तो मैं तुम्हें वास्तविकता और सच्चाई का खुलासा करके अपनी निष्ठा दिखाऊँगा। अब, मुझे कोई भी छू नहीं सकता। मैं परम शिवा हूँ, समझे। सच का खुलासा करने के लिए कोई बेवकूफ अदालत मुझ पर मुकदमा नहीं कर सकती। मैं परम शिवा हूँ।

उल्लेखनीय है कि इस वायरल वीडियो से पहले मोदी सरकार स्वयंभू बाबा नित्यानंद पर कड़ा एक्शन लेते हुए उनका पासपोर्ट रद्द कर चुकी है। साथ ही मोदी सरकार द्वारा नित्यांनंद के नए पासपोर्ट की याचिका को भी खारिज किया जा चुका है। जिसकी जानकारी स्वंय मंत्रालय प्रवक्ता रवीश कुमार ने बीते शुक्रवार (दिसंबर 6, 2019) को दी।

उन्होंने बताया, सरकार ने विवादास्पद स्वयंभू बाबा नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द कर दिया है और उसकी नए पासपोर्ट की याचिका भी खारिज कर दी है। मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह भी कहा कि मंत्रालय ने विदेशों में स्थित सभी मिशनों और पोस्टों को नित्यानंद के बारे में सतर्क कर दिया है।

बता दें, 9 वर्ष पहले साल 2010 में स्वामी नित्यानंद की एक सेक्स CD सामने आई थी। जिसके बाद ‘बाबा’ को अरेस्ट भी किया गया था। लेकिन कुछ समय बाद वह जमानत पर छूटकर बाहर आ गया। साल 2012 में फिर स्वयंभू बाबा पर बलात्कार के आरोप लगे, जिसका अभी भी ट्रायल चल रहा है। इतना ही नहीं गुजरात में भी नित्यानंद के ऊपर नाबालिग लड़के लड़कियों को बंधक बनाने और उन्हें टॉर्चर करने के आरोप में आपराधिक मामले चल रहे हैं।

हालाँकि, अभी हाल ही में नित्यानंद पर दो लड़कियों को अगवा करने और गायब कर देने के आरोप में नया मोड़ आया है। दरअसल, जिन दो बहनों के अपहरण और उन्हें जबरन आश्रम में रखने का आरोप स्वामी नित्यानंद पर है, उनमें से एक ने आगे आकर एक वीडियो मैसेज में नित्यानंद को क्लीन चिट दी है और अपने पिता पर ही उनके खिलाफ साज़िश करने का आरोप लगाया है

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,363FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe