Sunday, May 26, 2024
Homeदेश-समाजसांसद व अभिनेत्री नुसरत जहाँ और निखिल जैन की शादी अवैध: कोलकाता के एक...

सांसद व अभिनेत्री नुसरत जहाँ और निखिल जैन की शादी अवैध: कोलकाता के एक कोर्ट का फैसला

नुसरत जहाँ ने जून 2019 में निखिल जैन से तुर्की में शादी की थी। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद ही दोनों के संबंधों में दरार आ गई। नुसरत जहाँ ने यहाँ तक कह दिया था कि उन्होंने निखिल जैन से कभी शादी ही नहीं की थी।

तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) की सांसद और बांग्ला फिल्मों की अभिनेत्री नुसरत जहाँ की पहली शादी को कोलकाता की एक कोर्ट ने अमान्य करार दिया है। कोर्ट ने बुधवार (17 नवंबर 2021) को पास किए गए आदेश में नुसरत की बात को सही मानते हुए बताया कि नुसरत जहाँ मुस्लिम हैं वहीं निखिल जैन हिंदू हैं। कोर्ट ने कहा कि स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत दोनों की शादी नहीं हुई है। इसके अलावा कोर्ट ने आदेश में बताया कि यह शादी तुर्की में कभी रजिस्टर्ड ही नहीं हुई। इसलिए तुर्की के बोडरम में 19/06/2019 को हुई दोनों की कथित शादी कानूनी रूप से वैध नहीं है।

बता दें कि नुसरत जहाँ ने जून 2019 में निखिल जैन से तुर्की में शादी की थी। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद ही दोनों के संबंधों में दरार आ गई। नुसरत जहाँ ने यहाँ तक कह दिया था कि उन्होंने निखिल जैन से कभी शादी ही नहीं की थी।

साभार: सोशल मीडिया

नुसरत का कहना था कि उनकी शादी भारतीय कानून के तहत मान्य नहीं है। ऐसे में तलाक का सवाल ही पैदा नहीं होता। निखिल जैन ने नुसरत पर कई आरोप लगाए। इसके बाद अभिनेत्री ने उन आरोपों को खारिज करते हुए जैन पर कई गंभीर आरोप लगाए।

साभार: सोशल मीडिया

कुछ महीने पहले नुसरत जहाँ माँ बनी हैं, उस वक्त निखिल जैन ने उन्हें बधाई दी थी, हालाँकि उन्होंने यह भी कहा था कि वे इस बच्चे के पिता नहीं हैं। इस बीच नुसरत जहाँ और उनके को-स्टार यश दासगुप्ता के बीच नजदीकी काफी बढ़ी और वे नुसरत और बच्चे का काफी केयर भी करते नजर आए हैं।

बताया जा रहा है कि नुसरत बंगाली अभिनेता यश दासगुप्ता को डेट कर रही हैं। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार बर्थ सर्टिफिकेट में बच्चे के पिता का नाम देबाशीष दासगुप्ता बताया गया है। इसमें बच्चे का पूरा नाम ‘यिशान जे दासगुप्ता’ दर्ज है। यश दासगुप्ता भाजपा से जुड़े हैं। चंडीताला विधानसभा सीट से चुनाव भी लड़े थे, लेकिन हार गए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Cyclone Remal: 130-140km/h की रफ्तार से आएगा चक्रवात, तटीय जिलों में रेड अलर्ट, रेल-प्लेन सब ठप – तूफान के नाम में 13 देशों का...

रेमल चक्रवाती तूफान की वजह से हवाएँ 130-140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी। इस चक्रवाती तूफान की वजह से भारी तबाही की आशंका जताई जा रही है।

भोजशाला में ASI सर्वे में मिला पाषाण अवशेष, भगवान सूर्य के आठों पहर के बने हैं चिन्ह: मजार बना मुस्लिम पढ़ने लगे नमाज, माँ...

भोजशाला में सर्वे के लिए अब जमीन के नीचे क्या है, इसका पता लगाने के लिए ग्राउंड पेनेट्रेटिंग राडार का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसे हैदराबाद से लाया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -