Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजओडिशा के तट पर पहुँचा प्रचंड चक्रवात Fani, यूपी बिहार के लिए भी अलर्ट...

ओडिशा के तट पर पहुँचा प्रचंड चक्रवात Fani, यूपी बिहार के लिए भी अलर्ट जारी

बंगाल की खाड़ी के गर्म होने की वजह से फोनी तूफान की स्थिति बनी है। मौसम अधिकारी इस पर नज़र बनाए हुए हैं और इसकी पल पल की जानकारी प्रधानमंत्री को दी जा रही है।

बंगाल की खाड़ी में उठा भीषण चक्रवाती तूफान फोनी ओडिशा के पुरी से टकरा चुका है। इस तूफान के अगले 3 घंटे तक रहने की आशंका है। तकरीबन 10,000 गाँव और 52 शहरों पर इसका सीधा असर पड़ने वाला है। इस विनाशकारी तूफान से बचाव के लिए लगभग 11 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुँचा दिया गया है और साथ ही समुद्री इलाकों में रहने वाले लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी गई है। भारतीय नौसेना और एनडीआरएफ को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है।

बंगाल की खाड़ी के गर्म होने की वजह से फोनी तूफान की स्थिति बनी है। मौसम अधिकारी इस पर नज़र बनाए हुए हैं और इसकी पल पल की जानकारी प्रधानमंत्री को दी जा रही है। फिलहाल इस प्रचंड तूफान की रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटा है, लेकिन इसके बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। ऐसा बताया जा रहा ये तूफान बंगाल के पूर्वी मिदनापुर से भी टकरा सकता है।

भुवनेश्वर में काफी तेज हवा चल रही है और बारिश भी लगातार हो रही है, जिसकी वजह से हालात बेहद मुश्किल बने हुए हैं। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार हवा की रफ्तार बढ़कर 205 किमी प्रति घंटा तक हो सकतती है।

बता दें कि इस तूफान का असर ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल के अलावा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, सिक्किम, तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी देखने को मिल सकता है। इसके लिए उत्तर प्रदेश के किसानों को सलाह दी गई है कि फसलों को नुकसान से बचाने के लिए अनाज को ऐसी जगह पर रखें, जहाँ पर आँधी-पानी का असर कम पड़े। वहीं, ओडिशा को लेकर संभावना जताई जा रही है कि राज्य के कम से कम 14 जिले इस तूफानी चक्रवात की चपेट में आ सकते हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे ‘चाणक्य’ बताया, उसके समर्थन के बावजूद हारा मौजूदा MLC: महाराष्ट्र में ऐसे बिखरा MVA गठबंधन, कॉन्ग्रेस विधायकों ने अपनी ही पार्टी को दिया...

जिस जयंत पाटील के पक्ष में महाराष्ट्र की राजनीति के कथित चाणक्य और गठबंधन के अगुवा शरद पवार खुद खड़े थे, उन्हें ही हार का सामना करना पड़ा।

18 बैंक खाते, 95 करोड़ रुपए, अब तक 11 शिकंजे में… जनजातीय समाज का पैसा डकारने के मामले में कॉन्ग्रेस के पूर्व मंत्री गिरफ्तार,...

सीधे शब्दों में समझें तो पूरा मामला ये है कि ST निगम के कुछ अधिकारियों ने फर्जी हस्ताक्षरों का इस्तेमाल कर के अवैध रूप से 94,73,08,500 रुपए विभिन्न बैंक खातों में भेज दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -