Wednesday, November 30, 2022
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ के जशपुर में दशहरा मना रहे लोगों को कार ने रौंदा, गाँजा भरा...

छत्तीसगढ़ के जशपुर में दशहरा मना रहे लोगों को कार ने रौंदा, गाँजा भरा था: देखें Video

जशपुर के एसपी ने कहा कि मामला गाड़ी तेज चलाने का है और दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है। एसपी ने बताया कि दोनों आरोपी- बब्लू विश्वकर्मा और शिशुपाल साहू मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं और छत्तीसगढ़ के रास्ते जा रहे थे। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

छत्तीसगढ़ के जशपुर में शुक्रवार को दुर्गा प्रतिमा विसर्जित करने जा रहे श्रद्धालुओं को एक बेकाबू कार ने रौंद दिया। ताजा समाचार मिलने तक इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है और लगभग 26 लोग घायल हो गए हैं। घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जिनमें से 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बेतहाशा भागती जा रही उस कार में गाँजा भरा हुआ था। इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने कार को आग लगा दी है। यह घटना जशपुर के पत्थलगांव की है और शुक्रवार (15 अक्टूबर 2021) को दोपहर लगभग डेढ़ बजे के आसपास घटित हुई। घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

जुलूस में 7 अलग-अलग दुर्गा पूजा पंडालों की प्रतिमाएँ थीं। इन प्रतिमाओं को विसर्जित करने के लिए भारी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। इन्हें विसर्जित करने के लिए जशपुर स्थित नदी के घाट पर ले जाया जा रहा था। इसी दौरान पीछे से बेहद तेज गति में आती हुई कार श्रद्धालुओं को रौंदती निकल गई। इस दौरान लोगों को सँभलने का भी मौका नहीं मिला। घटना में मृतक का नाम गौरव अग्रवाल बताया जा रहा है, जिसकी उम्र लगभग 21 वर्ष थी।

मौके पर मौजूद चश्मदीदों के अनुसार, घटना के समय कार की गति 100 से 120 किलोमीटर प्रतिघंटे थी। लोगों का कहना है कि आरोपित गाँजा तस्कर हैं। घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने पत्थलगांव थाने का घेराव किया है। लोगों ने स्थानीय थाने के ASI पर गाँजा तस्करी में सहयोग करने का आरोप लगाते हुए आरोपित पुलिसकर्मी पर भी कार्रवाई की माँग की है।

लोगों को कुचल कर भागती कार को 5 किलोमीटर पीछा कर के सुखरापारा में पकड़ा गया है। वहीं, जशपुर के एसपी ने कहा कि मामला गाड़ी तेज चलाने का है और दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है। एसपी ने बताया कि दोनों आरोपी- बब्लू विश्वकर्मा और शिशुपाल साहू मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं और छत्तीसगढ़ के रास्ते जा रहे थे। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोता हुआ आम का पेड़, आरती के समय मंदिर में देवता को प्रणाम करने वाला ताड़ का वृक्ष… वेदों से प्रेरित था जगदीश चंद्र...

छुईमुई का पौधा हमारे छूते ही प्रतिक्रिया देता है। जगदीश चंद्र बोस ने दिखाया कि अन्य पेड़-पौधों में भी ऐसा होता है, लेकिन नंगी आँखों से नहीं दिखता।

‘मौलाना साद को सौंपी जाए निजामुद्दीन मरकज की चाबियाँ’: दिल्ली HC के आदेश पर पुलिस को आपत्ति नहीं, तबलीगी जमात ने फैलाया था कोरोना

दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की चाबी मौलाना साद को सौंपने की हिदायत दी। पुलिस ने दावा किया है कि वह फरार है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,143FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe