Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजड्रोन से गुटखा और पान मसाला सप्लाई: गुजरात में 'जुगाड़ वाला व्यापारी' गिरफ्तार, देखें...

ड्रोन से गुटखा और पान मसाला सप्लाई: गुजरात में ‘जुगाड़ वाला व्यापारी’ गिरफ्तार, देखें वायरल वीडियो

वाकया गुजरात के मोरबी का है, जहाँ पुलिस ने 2 लोगों को ड्रोन के जरिए पान मसाला पहुँचाने के आरोप में हिरासत में रखा है। ड्रोन के जरिए पान मसाला पहुँचाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है।

गुजरात के मोरबी से एक खबर सामने आ रही है, जो जितनी हैरतअंगेज है उतनी ही मजेदार भी। वाकया गुजरात के मोरबी का है, जहाँ पुलिस ने 2 लोगों को ड्रोन के जरिए पान मसाला पहुँचाने के आरोप में हिरासत में रखा है। ड्रोन के जरिए पान मसाला पहुँचाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है।

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने अब इन दोनों व्यक्तियों के खिलाफ ‘महामारी अधिनियम’ के अंतर्गत मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है। यह मामला सामने तब आया जब एक टिकटॉक यूजर ने इसका वीडियो टिकटॉक पर अपलोड कर दिया।

हालाँकि 21 दिनों के इस देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान यह बहुत बार देखा गया कि कई राज्यों में लोग दारु के चक्कर में लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। कुछ लोग इस मौके का फायदा उठाकर अवैध शराब के धंधे में लिप्त हैं और प्रिंटेड दाम से कहीं ज्यादा में शराब मुहैया करवा रहे हैं। याद रहे कि देशव्यापी यह लॉकडाउन प्रधानमंत्री की 24 मार्च की घोषणा के बाद से ही लागू है।

केरल में कई सारी दुखद घटनाओं की खबरें आईं, जिनमें शराब न मिलने के कारण अवसाद ग्रस्त होकर लोगों ने आत्महत्या कर ली थी। लेकिन पान मसाला के लिए यह बेचैनी अजीबोगरीब है, जिसमें डिमांड इतनी बेकाबू हो रही है कि कुछ लोग ड्रोन के सहारे डिमांड को पूरा करने में लगे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe