Wednesday, January 19, 2022
Homeदेश-समाजजया बच्चन का 'शाप' सुना, अब पढ़ लीजिए ऐश्वर्या राय से ED ने क्या-क्या...

जया बच्चन का ‘शाप’ सुना, अब पढ़ लीजिए ऐश्वर्या राय से ED ने क्या-क्या पूछा: पनामा पेपर्स लीक में 7 घंटे चली पूछताछ

सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि ED ने ऐश्वर्या से पूछा कि उन्होंने किन कारणों से वह कंपनी केवल 1500 डॉलर में बेच दी, जिसे 50 हजार डॉलर में खरीदा गया था।

पनामा पेपर्स लीक में सोमवार (20 दिसंबर 2021) को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन (Aishwarya Rai Bachchan) से पूछताछ की। रिपोर्टों के अनुसार करीब 7 घंटे तक उनसे एजेंसी ने पूछताछ की। उन पर विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (FEMA) के उल्लंघन का आरोप है। पूछताछ के बाद ऐश्वर्या देर रात मुंबई लौट गईं।

ईडी के अधिकारियों ने ऐश्वर्या राय से लंबी पूछताछ के दौरान एमिक पार्टनर्स के बारे में जानने की कोशिश की। पूछा कि दस्तावेज में सामने आई कंपनी से उनका क्या संबंध है। ईडी ने पूछा कि एमिक पार्टनर्स 2005 में ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स में निगमित और पंजीकृत कंपनी थी। इस कंपनी के साथ उनका क्या संबंध हैं? क्या वह उस कानूनी फर्म के बारे में जानती हैं जहाँ मोसैक फोन्सेका ने कंपनी को पंजीकृत किया था? इस कंपनी के निदेशकों में ऐश्वर्या, उनके पिता कृष्णाराज राय, माँ वृंदा राय और भाई आदित्य राय शामिल थे। इसके बारे में भी ऐश्वर्या से पूछा गया। ऐश्वर्या से ये भी जानने की कोशिश की गई कि जून 2005 में उनके स्टेटस को शेयरहोल्डर के रूप में क्यों बदला गया? वहीं, 2008 में कंपनी को निष्क्रिय करने की वजह से लेकर लेन-देन में आरबीआई की अनुमति से जुड़े सवाल भी पूछे गए।

दैनिक भास्कर ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि एजेंसी ने ऐश्वर्या से पूछा कि उन्होंने किन कारणों से वह कंपनी केवल 1500 डॉलर में बेच दी, जिसे 50 हजार डॉलर में खरीदा गया था। बच्चन परिवार की बहू बनने के बाद इसे बंद करने की वजह को लेकर भी सवाल किए।

सोमवार को सपा सांसद और ऐश्वर्या राय की सास जया बच्चन संसद में काफी बौखलाई नजर आईं। उन्होंने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ निजी टिप्पणी की गई है। आक्रोशित जया बच्चन ने कहा, “मुझ पर निजी हमला किया गया। आप लोगों के बुरे दिन बहुत जल्दी आने वाले हैं। मैं आपको श्राप देती हूँ कि आप लोगों के बुरे दिन आएँगे। 

उल्लेखनीय है कि पनामा पेपर्स मामले की लंबे समय से जाँच चल रही है। ED के अधिकारी देश की कई बड़ी हस्तियों को जाँच में शामिल कर चुके हैं। इसी कड़ी में एक महीने पहले अभिषेक बच्चन भी ED कार्यालय में पहुँचे थे। वे कुछ दस्तावेज भी ED अधिकारियों को सौंप चुके हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बन रहा है यूपी, ग्रामीण इलाकों में भी 15000 Km सड़कें: CM योगी कुछ यूँ बदल रहे रोड इंफ्रास्ट्रक्चर

योगी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में 5 वर्षों में 15,246 किलोमीटर सड़कों का निर्माण कराया। उत्तर प्रदेश में जल्द ही अब 6 एक्सप्रेसवे हो जाएँगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,216FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe