Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजडांडिया नाइट आयोजित करवाना बन गया मौत की वजह! हर्ष राज हत्याकांड में बिहार...

डांडिया नाइट आयोजित करवाना बन गया मौत की वजह! हर्ष राज हत्याकांड में बिहार पुलिस ने चंदन यादव को दबोचा, लॉ कॉलेज के बाहर पीट-पीट कर मार डाला था

चंदन यादव को पटना के बिहटा स्थित आम्हारा गाँव से गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपितों की गिरफ़्तारी के लिए 4 जिलों में छापेमारी की जा रही है।

बिहार की राजधानी पटना में लॉ कॉलेज के बाहर छात्र हर्ष राज की हत्या सोमवार (27 मई, 2024) को कर दी गई थी। अब इस मामले में बिहार पुलिस ने चंदन यादव नामक शख्स को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि वही इस हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता है। वो पटना कॉलेज में BA फाइनल ईयर का छात्र है और जैक्सन हॉस्टल में रहता है। पटना के गाँधी मैदान स्थित कारगिल चौक पर छात्रों ने इस हत्याकांड के विरोध में प्रदर्शन भी किया। पुलिस ने लाठीचार्ज कर के प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा।

चंदन यादव को पटना के बिहटा स्थित आम्हारा गाँव से गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपितों की गिरफ़्तारी के लिए 4 जिलों में छापेमारी की जा रही है। चंदन यादव ने पुलिस द्वारा पूछताछ में बताया है कि डांडिया नाइट के दौरान हुई मारपीट का उसने बदला लिया है। हर्ष राज वैशाली जिले के लालगंज का रहने वाला था। परीक्षा देकर निकलने के बाद जैसे ही वो अपनी बाइक की तरफ गया, वहाँ पहले से मौजूद हत्यारों ने लाठी-डंडे से पीट-पीट कर उसकी हत्या कर दी।

सिर सहित शरीर के कई हिस्सों पर ताबड़तोड़ वार किए जाने के कारण हर्ष राज की मृत्यु हो गई। वहाँ पर कुछ लोग मौजूद थे, लेकिन उन्होंने बीच-बचाव करने का कोई प्रयास नहीं किया। हर्ष राज ने पिछले साल पटना के मिलर हाईस्कूल में डांडिया नाइट का आयोजन करवाया था, जिसमें यूनिवर्सिटी के कई छात्र-छात्राएँ शामिल हुए थे। इसी कार्यक्रम में पटेल और जैक्सन हॉस्टल के छात्रों का हर्ष राज के बाउंसरों के साथ मारपीट हो गई थी। इसमें एक छात्र का सिर भी फट गया था।

चंदन यादव का कहना है कि इसी रंजिश में उसने हर्ष राज की हत्या की घटना को अंजाम दिया है। अशोक राजपथ वाले इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। वहाँ कई थानों की पुलिस लगाई गई है। सैकड़ों की संख्या में छात्रों ने पटना कॉलेज से लेकर कारगिल चौक तक मार्च निकाला है। हर्ष राज BN कॉलेज के फाइनल ईयर का छात्र था। वहाँ उसकी परीक्षा थी। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है। 22 वर्षीय हर्ष राज को PMCH में मृत घोषित किया गया।

बिहार पुलिस ने अनुसंधान के लिए SIT का गठन किया था और अपनी तकनीकी टीम को भी काम पर लगाया था। इसमें संलिप्त अभियुक्तों की मौजूदगी का पता चलते ही छापेमारी की जा रही है। एक टीम को सबूत जुटाने के लिए भी लगाया गया है। चंदन यादव के पिता का नाम जितेंद्र यादव है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -