Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाज'भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?': पटना HC के जज के...

‘भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?’: पटना HC के जज के सवाल पर वकीलों ने लगाए ठहाके, ₹24 लाख की गड़बड़ी का आरोपित है अधिकारी

अधिकारी अरविंद कुमार भारती ने रिजर्वेशन पर नौकरी मिलने की बात स्वीकार करते हुए 'हाँ' में जवाब दिया। अधिकारी के कोर्ट रूम से चले जाने के बाद कोर्ट रूम में मौजूद कुछ वकील हँसने लगे।

पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जस्टिस संदीप कुमार ने एक सुनवाई के दौरान कुछ ऐसा कह दिया, जिससे उनका वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो 23 नवंबर, 2022 को हुई सुनवाई के लाइव-स्ट्रीम का बताया जा रहा है।

सुनवाई का वीडियो बिहार सरकार के एक जिला भूमि अधिग्रहण अधिकारी अरविंद कुमार भारती नाम के मामले से जुड़ा हुआ है। उनपर भूमि अधिग्रहण के एक मामले में मुआवजे के 23-24 लाख रुपए गलत तरीके से आवंटित करने का आरोप है। अदालत ने उनसे यह बताने के लिए पेश होने को कहा था कि बँटवारे का मुकदमा (पार्टीशन सूट) लंबित होने के दौरान उन्होंने एक पक्ष को भूमि अधिग्रहण मुआवजा कैसे जारी किया। बातचीत के दौरान, अदालत को यह भी जानकारी दी गई कि अधिकारी को पहले भी एक मामले में निलंबित किया जा चुका है।

पक्षकारों को हलफनामा दायर करने के लिए समय देने के बाद जस्टिस कुमार ने अधिकारी से पूछा, “भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?

अधिकारी अरविंद कुमार भारती ने रिजर्वेशन पर नौकरी मिलने की बात स्वीकार करते हुए ‘हाँ’ में जवाब दिया। अधिकारी के कोर्ट रूम से चले जाने के बाद कोर्ट रूम में मौजूद कुछ वकील हँसने लगे। इस दौरान एक वकील ने टिप्पणी की, “अब तो हुजूर समझिएगा बात।” इस पर एक दूसरे वकील ने टिप्पणी की कि दो नौकरी के बराबर हो गया होगा। उनका आशय कमाई से था। इस पर जस्टिस संदीप कुमार ने कहा, “नहीं, नहीं यह सब… कुछ नहीं होता इन लोगों का… ये बेचारा पैसा जो कमाया होगा, खतम कर दिया होगा।”

जस्टिस कुमार के इस कमेंट के बाद मौजूद वकील ठहाका लगाने लगते हैं। पूरी बातचीत पटना हाईकोर्ट द्वारा जारी वीडियो में लगभग 1.47.28 से देख सकते हैं। वीडियो के वायरल होने के बाद एक वर्ग जस्टिस कुमार की आलोचना कर रहा है। आपको बता दें कुछ दिन पहले भी जस्टिस संदीप कुमार का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था। वायरल वीडियो में जस्टिस संदीप कुमार एक महिला के घर पर हुए बुलडोजर कार्रवाई को लेकर बिहार पुलिस पर भड़क गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तराखंड में तेज़ी से बढ़ रही मुस्लिमों और ईसाईयों की जनसंख्या: UCC पैनल की रिपोर्ट में खुलासा – पहाड़ों से हो रहा पलायन

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में आबादी घट रही है, तो मैदानी इलाकों में बेहद तेजी से आबादी बढ़ी है। इसमें सबसे बड़ा योगदान दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासियों ने किया है।

जम्मू कश्मीर के उप-राज्यपाल को अब दिल्ली के LG जितनी शक्तियाँ, ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए भी उनकी अनुमति ज़रूरी: मोदी सरकार के आदेश पर भड़के...

जब से जम्मू कश्मीर का पुनर्गठन हुआ है, तब से वहाँ चुनाव नहीं हो पाए हैं। मगर जब भी सरकार का गठन होगा तब सबसे अधिक शक्तियाँ राज्यपाल के पास होंगी। ये शक्तियाँ ऐसी ही हैं, जैसे दिल्ली के एलजी के पास होती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -