Friday, April 19, 2024
Homeदेश-समाज6 राज्यों के CM, पीएम मोदी का 4 'T' मंत्र: कोरोना की तीसरी लहर...

6 राज्यों के CM, पीएम मोदी का 4 ‘T’ मंत्र: कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए ग्रामीण इलाकों पर फोकस करने को कहा

पीएम मोदी ने कहा कि विशेषज्ञों का मानना है कि लंबे समय तक संक्रमण बढ़ने से वायरस के म्युटेशन का खतरा बढ़ जाता है।

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (16 जुलाई 2021) को तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र, केरल और ओडिशा के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों को कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आगाह किया। मीटिंग के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी उपस्थित रहे।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सभी कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर बात कर रहे हैं। बीते कुछ दिनों के दौरान हम उस बिंदु पर हैं जहां COVID की संभावित तीसरी लहर के बारे में बात हो रही है। पिछले कुछ दिनों में तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र, केरल और ओडिशा समेत 6 राज्यों से अकेले कोरोना के 80 फीसद मामले सामने आए हैं।

हालिया दिनों में जिन राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी आई है, वहाँ तीसरी लहर की संभावना को रोकने के लिए पीएम ने सक्रिय रूप से उपाय करने की बात की। इसके साथ ही कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए उन्होंने फोर ‘टी’ (टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-टीका) का मंत्र दिया। प्रधानमंत्री ने उच्च संक्रमण दर वाले इन 6 राज्यों को इसी दृष्टिकोण के आधार पर आगे बढ़ने का सुझाव दिया है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना को नियंत्रित करने रणनीति की सराहना करते हुए पीएम ने कहा कि महामारी से बचाव के लिए उत्तर प्रदेश ने टेस्ट, ट्रेस, ट्रीट की तकनीक पर काम किया है। पीएम के मुताबिक, विशेषज्ञों का मानना है कि लंबे समय तक संक्रमण बढ़ने से वायरस के म्युटेशन का खतरा बढ़ जाता है।

मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत सरकार ने COVID19 की चुनौतियों से निपटने के लिए 23,000 करोड़ रुपए के आपातकालीन पैकेज का एलान किया है। उन्होंने स्वास्थ्य के बुनियादी ढाँचे को मजबूत करने पर जोर देते हुए कहा कि राज्यों को पैकेज से मिलने वाली राशि का इस्तेमाल स्वास्थ्य के बुनियादी ढाँचे को मजबूत करने के लिए करना चाहिए। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों पर भी ध्यान देने की विशेष आवश्यकता है।

रिपोर्ट के मुताबिक, बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने पर भी जोर दिया है। साथ ही, उन्होंने कहा कि देश के सभी राज्यों को नए आईसीयू बेड बनाने और टेस्टिंग कैपिसिटी को बढ़ाने के लिए आवश्यक फंड मुहैया कराया जा रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1200 निर्दोषों के नरसंहार पर चुप्पी, जवाबी कार्रवाई को ‘अपराध’ बताने वाला फोटोग्राफर Time का दुलारा: हिन्दुओं की लाशों का ‘कारोबार’ करने वाले को...

मोताज़ अजैज़ा को 'Time' ने सम्मान दे दिया। 7 अक्टूबर को इजरायल में हमास ने जिन 1200 निर्दोषों को मारा था, उनकी तस्वीरें कब दिखाएँगे ये? फिलिस्तीनी जनता की पीड़ा के लिए हमास ही जिम्मेदार है।

10 नए शहर, ₹10000 करोड़ के नए प्रोजेक्ट… जानें PM मोदी तीसरे कार्यकाल में किस ओर देंगे ध्यान, तैयार हो रहा 100 दिन का...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी अधिकारियों से चुनाव के बाद का 100 दिन का रोडमैप बनाने को कहा था, जो अब तैयार हो रहा है। इस पर एक रिपोर्ट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe