रफ़ीकुल अली ने माँ लक्ष्मी की मूर्ति जलाई, आभूषण चुराए, पुलिस के हत्थे चढ़ा

आरोपित रफीकुल पर पहले भी स्कूल-कॉलेज के छात्रों के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोप लग चुके हैं। स्थानीय लोग उसकी करतूतों से बेहद परेशान थे।

असम के बारपेटा में एक और हिन्दू मन्दिर पर हमले की खबर सामने आ रही है। खबर के अनुसार मंगलवार (8 अक्टूबर, 2019) को रफीकुल अली नामक मुस्लिम हमलावर ने लक्ष्मी मन्दिर में घुस कर मन्दिर में आग लगा दी। उस पर इसके अलावा देवी के सोने-चाँदी के आभूषण चुराने, मन्दिर की फ़र्श तोड़ने और मन्दिर में लगे आगामी लक्ष्मी पूजा की जानकारी देने वाले पोस्टर फाड़ने का भी आरोप हैस्थानीय मीडिया के अनुसार लोगों ने हमलावर को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।

बताया जा रहा है कि आरोपित रफीकुल पर पहले भी स्कूल-कॉलेज के छात्रों के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोप लग चुके हैं। न्यूज़ 18 असम के मुताबिक स्थानीय लोगों ने उस पर ‘बुलींग’ (bullying, गुंडागर्दी और दुर्व्यवहार) का आरोप लगाया है और बताया है कि उसके व्यवहार से क्षेत्र के काफ़ी लोग परेशान थे। उसके खिलाफ़ पुलिस ने तहरीर दर्ज कर ली है और जाँच शुरू हो गई है। लक्ष्मी मन्दिर बारपेटा के उत्कुची इलाके में स्थित है।

लगातार दूसरे साल नवरात्रि पर हिन्दू मन्दिरों पर हमला

यह पहली बार नहीं है कि शारदीय नवरात्रि/दुर्गा पूजा पर असम में मन्दिर और मूर्तियों पर हमला हुआ है। पिछले साल भी दुर्गा पूजा के दौरान दो-दो बार मूर्तियों पर हमले हुए थे। 17 अक्टूबर, 2018 को बारपेटा के ही हाउली में किसी ने दुर्गा पंडाल में घुसकर देवी दुर्गा की मूर्ति के चेहरे के साथ छेड़छाड़ की थी। इलाके में इतना तनाव हो गया कि CRPF तैनात कर धारा 144 लगाने की नौबत आ गई थी। इस घटना के तीन दिन पहले गुवाहाटी के पलटन बाज़ार में किसी ने गणेश और दुर्गा की प्रतिमाओं को खंडित करने की कोशिश की गई थी।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

अमानतुल्लाह ख़ान, जामिया इस्लामिया
प्रदर्शन के दौरान जहाँ हिंसक घटना हुई, वहाँ AAP विधायक अमानतुल्लाह ख़ान भी मौजूद थे। एक तरफ केजरीवाल ऐसी घटना को अस्वीकार्य बता रहे हैं, दूसरी तरफ उनके MLA पर हिंसक भीड़ की अगुवाई करने के आरोप लग रहे हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,919फैंसलाइक करें
26,833फॉलोवर्सफॉलो करें
127,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: