Saturday, October 23, 2021
Homeदेश-समाज'भूमाफिया राकेश टिकैत ने कब्ज़ा ली 3 बीघा जमीन, रात भर में तबाह करवा...

‘भूमाफिया राकेश टिकैत ने कब्ज़ा ली 3 बीघा जमीन, रात भर में तबाह करवा दी फसल’: महिला ने CM योगी से लगाई न्याय की गुहार

पीड़ित परिवार ने कहा, "राकेश टिकैत किसान नेता नहीं बल्कि बहुत बड़े भूमाफिया हैं। वो छोटे किसानों की जमीनों पर जबरन कब्ज़ा कर लेते हैं।"

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के अध्यक्ष नरेश टिकैत के भाई राकेश टिकैत के खिलाफ एक महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई है। पिछले 6 महीने से दिल्ली की सीमा पर ‘किसान आंदोलन’ के बहाने जमे राकेश टिकैत ने हाल ही में हुए 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा के खिलाफ प्रचार किया था। पीड़ित महिला ने राकेश टिकैत और उनके बेटे चरण सिंह को ‘भूमाफिया’ बताते हुए जमीन पर कब्ज़ा करने के आरोप लगाए हैं।

आरोप है कि पिता-पुत्र ने मिल कर मुजफ्फरनगर में एक किसान की लाखों की जमीन पर न सिर्फ अवैध कब्जा किया, बल्कि खेत में खड़ी फसल को तहस-नहस भी कर डाला। पीड़ित परिवार ने जिला प्रशासन और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई है कि वो कड़ी कार्रवाई करें। शाहपुर थाना क्षेत्र स्थित किनौनी गाँव की सुशीला देवी और उनके बेटे विनीत बालियान ने कहा कि उनकी 3 बीघा से अधिक जमीन रेलवे अधिग्रहण में आ गई थी।

इसके बाद राकेश टिकैत और उनके बेटे चरण सिंह ने रविवार (मई 30, 2021) की रात उनके खेत पर अवैध कब्जा करते हुए उसमें खड़ी फसल को तबाह करवा दिया। ‘Zee News’ की खबर के अनुसार, पीड़ित परिवार ने कहा, “राकेश टिकैत किसान नेता नहीं बल्कि बहुत बड़े भूमाफिया हैं। वो छोटे किसानों की जमीनों पर जबरन कब्ज़ा कर लेते हैं।” महिला ने कहा कि जिला प्रशासन से लगातार गुहार लगाए जाने के बावजूद पिता-पुत्र के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

हालाँकि, ये पहली बार नहीं है जब राकेश टिकैत विवादों में आए हों। ब्राह्मण समाज पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर सनातन धर्म के खिलाफ जहर फैलाने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ फरीदाबाद में शिकायत दर्ज कराई गई थी और केस दर्ज करने की माँग की गई थी। शिकायत में कहा गया था कि वो लोगों की धार्मिक भावनाओं को भड़का कर सरकार के खिलाफ लोगों को इस आंदोलन में जोड़ना चाहते हैं।

पिछले दिनों दिल्ली बॉर्डर से तस्वीर आई थी कि वहाँ कोविड नियमों को ताक पर रखकर इफ्तार पार्टी का आयोजन हुआ और अब खबर है कि राकेश टिकैत का जन्मदिन भी गाजीपुर बॉर्डर पर ही मनेगा। नरेश टिकैत इसके लिए दिल्ली बॉर्डर पर आएँगे। उन्होंने 11 क्विंटल रसगुल्ले भी बनवाए हैं। सिसौली क्षेत्र के आसपास के गाँवों के किसानों ने तो उनके जन्मदिन को एक उत्सव के रूप में मनाने की योजना बनाई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘खालिस्तान’ के नक़्शे में UP और राजस्थान भी, भारत से अलग देश बनाने का ‘खेल’ सोशल मीडिया पर… लोगों ने वहीं दिखाई औकात

'सिख्स फॉर जस्टिस' नाम की कट्टरवादी सिख संस्था ने तथाकथित खालिस्तान का नक्शा जारी किया है, जिसके बाद से लोग सोशल मीडिया पर उसकी आलोचना कर रहे हैं।

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति की बेटी सुकमावती इस्लाम छोड़ रहीं, अपनाएँगी हिंदू धर्म: सुधी वदानी रस्म की होगी प्रक्रिया

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी ने इस्लाम से वापस हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है। सुधी वदानी नाम की रस्म होगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,988FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe