Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजबेंगलुरु में 200 महिलाओं का यौन शोषण, जम्मू में 7वीं की छात्रा से रेप:...

बेंगलुरु में 200 महिलाओं का यौन शोषण, जम्मू में 7वीं की छात्रा से रेप: J&K के पूर्व कॉन्ग्रेसी मंत्री का बेटा है आबिद

धोखाधड़ी से वो जम्मू की 7वीं की छात्रा को अपनी कार में बिठाने में कामयाब रहा। इसके बाद वो पीड़िता को अपने तालाब तिल्लो स्थित क्वार्टर लेकर गया, जहाँ उसके साथ बलात्कार किया गया।

जम्मू की दोमाना पुलिस ने एक पूर्व मंत्री के बेटे के खिलाफ चालान पेश किया है। 6 वर्ष पुराने बलात्कार के मामले में ये कार्रवाई की गई। पूर्व अब्दुल गनी वकील के बेटे आबिद गनी पर 200 महिलाओं के यौन शोषण के आरोप हैं। ये मामला 7वीं कक्षा की एक नाबालिग लड़की से बलात्कार का है। उस पर कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में भी रेप के मामले दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार, तब उसने कबूला था कि उसने 200 लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की है।

नाबालिग पीड़िता दोमाना क्षेत्र में एक खेल कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुँची हुई थीं। कार्यक्रम ख़त्म होने के बाद जब वो अपने घर जा रही थी, तभी आबिद अपने दोस्तों के साथ आ धमका और छात्रा का रास्ता रोक लिया। उसने खुद को छात्रा के पिता का दोस्त बताते हुए कहा कि उसके पिता ने ही उसे लेने के लिए भेजा है। किसी तरह धोखाधड़ी से वो छात्रा को अपनी कार में बिठाने में कामयाब रहा।

इसके बाद वो पीड़िता को अपने तालाब तिल्लो स्थित क्वार्टर लेकर गया, जहाँ उसके साथ बलात्कार किया गया। चूँकि वो एक मंत्री का बेटा था , इसीलिए जम्मू कश्मीर में सरकारें आती-जाती रहीं लेकिन ये मामला 6 साल तक यूँ ही दबा कर रखा गया। इस मामले के सामने आते ही पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार किया और सोमवार (19 जुलाई, 2021) को उसके खिलाफ कोर्ट का चालान पेश किया।

पुलिस ने जून 2021 में सोपोर स्थित उसके घर पर छापेमारी कर के उसे दबोचा था। वो अपने पिता अब्दुल गनी वकील के साथ उनके ही घर पर रहता था। अब्दुल गनी पहले कॉन्ग्रेस में हुआ करते थे, लेकिन फिर पीपल्स कॉन्फ्रेंस पार्टी में आ गए। वो 2006-08 में गुलाम नबी आज़ाद की सरकार में कश्मीर के समाज कल्याण मंत्री हुआ करते थे। दिलचस्प ये है कि अब्दुल गनी ने बच्चों के साथ रेप पर मौत की सज़ा वाले मोदी सरकार के कानून का स्वागत करते हुए इसे तुरंत जम्मू कश्मीर में लागू करने की माँग की थी।

30 वर्षीय आबिद गनी जब बंगलौर में हुआ करता था, तब वहाँ भी उसने कई महिलाओं के साथ छेड़खानी की थी। एक जॉब इंटरव्यू के दौरान ही उसने एक महिला के साथ यौन दुर्व्यवहार किया था। उसके अब्बा अब्दुल गनी भी 2014 में एक लड़की से अश्लील बातें करते हुए पाए गए थे। इसका ऑडियो टेप वायरल हुआ था। आबिद की अम्मी अब्दुल की दूसरी बीवी हैं और जम्मू कश्मीर के वित्त विभाग में कार्यरत हैं।

2017 में कर्नाटक में गिरफ्तार होने के बाद उसने खुद के एक नेता और अधिवक्ता का बेटा होने की धमकी दी थी। उसे जेपी नगर में एक मस्जिद के पास से गिरफ्तार किया गया था। एक बैंक इंटरव्यू के मंगलुरु से आई एक महिला का उसने यौन शोषण किया था। उसने 2 साल में बेंगलुरु में 200 महिलाओं का यौन शोषण किया था। 25 साल की महिला ने उसके खिलाफ FIR दर्ज कराई थी। हालाँकि, फिर वो इस केस में जमानत पाने में कामयाब रहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe