Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाज40 साल बाद गिरफ्तार हुआ दाऊद बंडू खान: महिला का अपहरण और बलात्कार कर...

40 साल बाद गिरफ्तार हुआ दाऊद बंडू खान: महिला का अपहरण और बलात्कार कर के हो गया था फरार, बेच डाली थी सारी संपत्ति

उसे ट्रांजिट रिमांड पर मुंबई लाया गया है, जहाँ उसे अदालत में पेश किया गया। इसके बाद उसे जेल भेजने की कार्रवाई कर दी गई है। ये मामला 1984 में दर्ज किया गया था।

मुंबई पुलिस ने एक महिला के अपहरण और बलात्कार के मामले में 40 साल बाद आरोपित बंडू खान को दबोचने में कामयाबी पाई है। उसे उत्तर प्रदेश के आगरा से गिरफ्तार किया गया। दाऊद बंडू खान उर्फ़ ‘पापा’ अब 70 साल का हो गया है, जब उसने अपहरण-बलात्कार की घटना को अंजाम दिया था तब उसकी उम्र 30 साल थी। उसे ट्रांजिट रिमांड पर मुंबई लाया गया है, जहाँ उसे अदालत में पेश किया गया। इसके बाद उसे जेल भेजने की कार्रवाई कर दी गई है।

ये मामला 1984 में दर्ज किया गया था। उस समय भी मुंबई पुलिस उसे दबोचने में कामयाब रही थी, लेकिन वो किसी तरह कोर्ट से जमानत पाने में कामयाब रहा। इसके बाद वो फरार हो गया। अदालत की किसी भी सुनवाई में उसने उपस्थिति दर्ज नहीं कराई। कोर्ट ने इस कारण उसे भगोड़ा घोषित कर दिया। डॉ DB मार्ग पुलिस स्टेशन में इस मामले की जाँच चल रही थी। फ़ॉकलैंड रोड पर दाऊद बंडू खान का घर स्थित है, लेकिन वहाँ दबिश देने के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चल सका था।

कई वर्षों बाद उसके बारे में पता चला कि वो उत्तर भारत के किसी राज्य में पहचान बदल कर छिपा हुआ है। हाल ही में पुलिस को मुखबिर से उसके बारे में सूचना मिली। मुंबई के डॉ दादाभाई भडकमकर मार्ग थाने की पुलिस ने इस सूचना के आधार पर उत्तर प्रदेश के आगरा से सोमवार (6 मई, 2024) को उसकी धर-पकड़ में कामयाबी पाई। उसने अपनी सारी संपत्ति बेच दी थी, साथ ही परिवार को भी अपने साथ ले गया था। कई थानों की पुलिस उसके पीछे लगी थी।

वो अपने परिवार के साथ आगरा में ही रह रहा था। वो एक-दो तारीखों के लिए अदालत में शुरुआत में पेश हुआ था, लेकिन फिर भाग निकला था। मुंबई में कुछ दिनों पहले भी इस तरह का मामला सामने आया था, जब दीपक भिसे नामक हत्या के एक आरोपित को 31 साल बाद गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली थी। पालघर के नालासोपारा से वो धराया था। 1989 में उसने राजू चिकना नामक व्यक्ति की हत्या कर दी थी। धर्मेंद्र सरोज नामक एक व्यक्ति की हत्या के प्रयास का भी आरोप उस पर था। 1992 में उसे जमानत मिल गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -