Monday, April 15, 2024
Homeदेश-समाजयाद हैं न बलिदानी रतनलाल: परिवार की मदद के लिए आएँ आगे, ये रहे...

याद हैं न बलिदानी रतनलाल: परिवार की मदद के लिए आएँ आगे, ये रहे बैंक डिटेल्स

बैंक अकाउंट की पुष्टि के लिए ऑपइंडिया ने रतनलाल के भाई दिनेश से बात की। सारी डिटेल्स सही निकली। जब ऑपइंडिया ने उनके भाई से पूछा कि उनके परिवार को क्या-क्या जरूरत है... तो उनकी आवाज भारी हो गई और वह केवल यही कह पाए, "जैसी जिसकी भावना।"

दिल्ली में हुए हिंदू विरोधी दंगों में हेड कॉन्सटेबल रतनलाल वीरगति को प्राप्त हो गए। उनकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ कि दंगाइयों की गोली लगने के कारण उनकी मृत्यु हुई। रिपोर्ट में बताया गया कि दंगे के दौरान मारी गई गोली उनके बाएँ कंधे में जाकर लगी और दाएँ कंधे में जाकर फँस गई। गोली को पोस्टमॉर्टम के दौरान निकाला गया।

रतनलाल मूल रूप से राजस्थान के सीकर जिले के फतेहपुर तिहवाली गाँव के निवासी थे। लेकिन अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ वो पिछले काफी समय से दिल्ली के बुराड़ी में ही रह रहे थे। उन्होंने अपनी माँ से इन छुट्टियों में गाँव आने का वादा किया था। लेकिन हिंदू-विरोधी दंगों में उनकी ख्वाहिश अधूरी ही रह गई। वो माँ को किया वादा पूरा करने से पहले ही दुनिया को छोड़कर चले गए।

उनके जाने के बाद अब उनका परिवार बिलकुल अकेला है। उनके पीछे उनकी पत्नी पूनम के अलावा दो मासूम बेटियाँ सिद्धि (12) और कनक (10) के साथ-साथ एक बेटा राम (7) रह गया है। इनके अलावा रतनलाल की माँ और एक छोटा भाई दिनेश भी हैं। ये दोनों गाँव में रहते हैं। पिता बृजमोहन का तो ढाई साल पहले ही देहांत हो चुका है। अब ऐसे में आखिर उनका घर चलाने वाला है ही कौन?

ऐसे में रतनलाल के परिवार की आर्थिक मदद के लिए कुछ दिन पहले अरुण बोथरा नाम के एक IPS ऑफिसर ने सोशल मीडिया पर रतनलाल के परिवार (पत्नी) का बैंक डिटेल्स अपलोड किया था। बैंक अकाउंट की पुष्टि के लिए ऑपइंडिया ने उनके भाई दिनेश से बात की। सारी डिटेल्स सही निकली। जब ऑपइंडिया ने रतनलाल के भाई से पूछा कि उनके परिवार को क्या-क्या जरूरत है… तो उनकी आवाज भारी हो गई और वह केवल यही कह पाए, “जैसी जिसकी भावना।”

अब अगर आप भी इन दंगों में वीरगति को प्राप्त हुए हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार की मदद करना चाहते हैं या फिर आर्थिक सहयोग करने में सक्षम हैं, तो हम उनकी बैंक डिटेल्स नीचे साझा कर रहे हैं। कृपया उनकी मदद के लिए आगे आएँ, जो खुद की जान की परवाह किए बिना दंगाइयों के सामने सीना ताने खड़े रहे और हमारे और आपके लिए अपने पूरे परिवार को छोड़कर चले गए।

Name: Mrs Poonam Bari
A/C no: 33150100023786
Bank of Baroda
IFSC Code – BARB0BURARI
(Fifth Character is Zero)

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली में मनोज तिवारी Vs कन्हैया कुमार के लिए सजा मैदान: कॉन्ग्रेस ने बेगूसराय के हारे को राजधानी में उतारा, 13वीं सूची में 10...

कॉन्ग्रेस की ओर से दिल्ली की चांदनी चौक सीट से जेपी अग्रवाल, उत्तर पूर्वी दिल्ली से कन्हैया कुमार, उत्तर पश्चिम दिल्ली से उदित राज को टिकट दिया गया है।

‘सूअर खाओ, हाथी-घोड़ा खाओ, दिखा कर क्या संदेश देना चाहते हो?’: बिहार में गरजे राजनाथ सिंह, कहा – किसने अपनी माँ का दूध पिया...

राजनाथ सिंह ने गरजते हुए कहा कि किसने अपनी माँ का दूध पिया है कि मोदी को जेल में डाल दे? इसके बाद लोगों ने 'जय श्री राम' की नारेबाजी के साथ उनका स्वागत किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe