Tuesday, May 17, 2022
Homeदेश-समाज60% मुस्लिमों की प्रताड़ना से तंग आकर पलायन को मजबूर हिन्दू: लगाया 'मकान बिकाऊ'...

60% मुस्लिमों की प्रताड़ना से तंग आकर पलायन को मजबूर हिन्दू: लगाया ‘मकान बिकाऊ’ का बोर्ड, आरोप – हिन्दुओं पर ही दर्ज हो रहे केस

जिले के बिलपांक थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले इस गाँव के हिंदू समुदाय का आरोप है कि बहुसंख्यक होने के कारण मुस्लिम समुदाय के लोग उन्हें प्रताड़ित करते हैं और धमकाते रहते हैं।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रतलाम (Ratlam) जिले का सुराना गाँव, जिसकी आबादी है करीब 2200। गाँव में बहुसंख्यक समुदाय मुस्लिम (Muslim) है, जो कि कुल जनसंख्या के 60% हैं। वहीं 40% हिंदू हैं। आजकल यह गाँव चर्चा का विषय बना हुआ है। यहाँ के रहने वाले हिंदू समुदाय को लोग मुस्लिमों की प्रताड़ना से तंग आकर अब गाँव से पलायन (Decampment) करने के लिए मजबूर हैं। इन्होंने मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर अपनी व्यथा बताई और कहा कि वे तीन दिन में ये गाँव, अपनी जमीनें और घर समेत सबकुछ छोड़ने को तैयार हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, जिले के बिलपांक थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले इस गाँव के हिंदू समुदाय का आरोप है कि बहुसंख्यक होने के कारण मुस्लिम समुदाय के लोग उन्हें प्रताड़ित करते हैं और धमकाते रहते हैं। ऐसे में अब उनके पास पलायन करने के अलावा कोई और चारा नहीं बचा है। बुधवार (19 जनवरी 2022) को जिले के कलेक्टर ने भी गाँव का दौरा कर वहाँ के हालात जानने की कोशिश की। उधर प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने एसपी और कलेक्टर दोनों से रिपोर्ट माँग लिया है।

साभार: नई दुनिया

एसडीएम के कार्यालय में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए दशरथ, मुकेश जाट, भरतलाल जाट ने अपनी व्यथा बताई। इनका कहना था कि गाँव में कई पीढ़ियों से हिंदू-मुस्लिम साथ रहते थे। लेकिन बीते 2-3 सालों से मुस्लिमों का आतंक बढ़ गया है। ये लोग आए दिन हिंदुओं को टारगेट कर हमले कर रहे हैं। इसके अलावा हिंदुओं के ही खिलाफ झूठे केस भी दर्ज किए जा रहे हैं। वहीं एसडीएम एमएल आर्य ने कहा है कि किसी भी व्यक्ति को गाँव से पलायन नहीं करना पड़ेगा, हम ऐसे हालात उत्पन्न नहीं होने देंगे। अधिकारी के मुताबिक, प्रशासनिक टीम गाँव में जाकर लोगों से बातचीत करेगी।

लोगों द्वारा कलेक्टर को लिखा गया ज्ञापन

घरों के बाहर ‘मकान बिकाऊ है’ लिखा

हालात ये हैं कि मुस्लिमों से परेशान गाँव के हिंदुओं ने अपने घरों के बाहर मकान बिकाऊ है लिख दिया है। उनका कहना है कि वे पलायन कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि अब प्रशासन तक अपनी बात पहुँचाने के लिए उनके पास इसके अलावा कोई और रास्ता ही नहीं बचा है।

पुलिस पर ये हैं आरोप

गाँव वालों का आरोप है कि पुलिस उनकी मदद नहीं कर रही है। उल्टे उन्हीं के खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है। पीड़ित हिंदुओं ने आरोप लगाया है कि पिछले दिनों जब विवाद हुआ तो वे इसकी शिकायत लेकर एसपी के पास गए। लेकिन, एसपी गौरव तिवारी ने उन्हें ही घर तोड़ने और उन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की धमकी दे दी थी। उन्होंने कहा है कि गाँव में हालात सामान्य हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,313FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe