छत्तीसगढ़: गौ हत्या से उबले ग्रामीण, भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती

पुलिस ने माँस के अवशेषों को एकत्र कर रामानुजगंज के पशु चिकित्सक विकास जायसवाल से पीएम कराकर जाँच शुरू की। चिकित्सक बोले-प्रथम दृष्टया गाय के ही लग रहे अवशेष।

छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में गाय की हत्या कर उसका माँस बेचे जाने की ख़बर सामने आई है। मामला रामचन्द्रपुर थाना के अंतर्गत ग्राम पंचायत रेवतीपुर का है। घटना से ग्रामीणों में आक्रोश फैला हुआ है। दोषियों को कड़ी सज़ा देने की माँग की जा रही है।

स्थानीय ग्रामीण महेन्द्र सिंह के अनुसार, सूचना मिलने के बाद हम लोग जब घटनास्थल पर पहुँचे तो देखा कि गाय की हत्या कर उसके अवशेष फेकें हुए हैं। उन्होंने बताया कि आसपास मुस्लिम समुदाय के लोग रहते हैं। ऐसा लगता है कि उन्होंने ही इस काम को अंजाम दिया होगा। गाँव के सरपंच श्रवण यादव ने भी घटनास्थल पर गाय के सींग, मुंडी और चमड़ी आदि मिलने की पुष्टि की है। सरपंच ने मुस्लिम समुदाय के लोगों को भी बुलाकर अवशेष दिखाए।

गाँव के लोगों ने सीमा में झाड़ियों के पास गाय के अवशेष देखे। इसके बाद पूरे गाँव में गाय की हत्या कर माँस बेचने की खबर फैल गई।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

नई दुनिया की ख़बर के अनुसार, घटना की सूचना मिलने पर पुलिस गाँव में पहुँची और माँस के अवशेषों को इकट्ठा करके रामानुजगंज के पशु चिकित्सक विकास जायसवाल से पीएम कराया। जायसवाल ने बताया कि अवशेष प्रथम दृष्टया गाय के ही लगते हैं।

रामचंद्रपुर थाना प्रभारी एसके पैकरा ने बताया कि अवशेषों को फोरेंसिक जाँच के लिए भेजा जाएगा। अज्ञात आरोपितों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया है। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती भी की गई है ताकि कोई अप्रिय घटना न घटे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

संदिग्ध हत्यारे
संदिग्ध हत्यारे कानपुर से सड़क के रास्ते लखनऊ पहुंचे थे। कानपुर रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी से इसकी पुष्टि हुई है। हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों ने बरेली में रात बिताई थी। हत्या के दौरान मोइनुद्दीन के दाहिने हाथ में चोट लगी थी और उसने बरेली में उपचार कराया था।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: