Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाज'जय श्री राम' के उद्घोष से माँ ने रिंकू शर्मा को दी श्रद्धांजलि, कपिल...

‘जय श्री राम’ के उद्घोष से माँ ने रिंकू शर्मा को दी श्रद्धांजलि, कपिल मिश्रा ने परिवार के लिए जुटाए ₹85 लाख

कपिल मिश्रा ने कहा कि वो मंगलवार को रिंकू के परिवार से मिलने के लिए जाएँगे। उन्होंने कहा कि इस नृशंस हत्या के 5 दिन बीतने के बावजूद दिल्ली के सीएम ने पीड़ित परिवार से मिलना तो दूर, संवेदना के दो शब्द तक नहीं कहा।

दिल्ली के मंगोलपुरी में रविवार (जनवरी 14, 2021) को हजारों की संख्या में लोग रिंकू शर्मा के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में पहुँचे। लोगों ने रिंकू शर्मा के हत्यारों को तत्काल फाँसी देने की माँग की। पीड़ित माँ राधा देवी के वहाँ पहुँचने से माहौल और गमगीन हो गया। उन्होंने बेटे के लिए न्याय की माँग करते हुए मंच से ‘जय श्री राम’ का उद्घोष भी किया।

रिंकू शर्मा की माँ ने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा, “मेरा बेटा जिनकी दुःखों में दो बार अपना खून देकर शामिल हुआ, उन्हीं लोगों ने उसकी पीठ में छुरा घोंप दिया। हत्यारों ने हमें ऐसा गम दिया है, जिसे कभी भूला नहीं जा सकता। मैं उन धोखेबाजों के लिए फाँसी की सजा की माँग करती हूँ।” आक्रोश और गम में डूबी राधा शर्मा ने कई बार ‘जय श्री राम’ का उद्घोष किया, जिसे वहाँ मौजूद लोगों ने भी दोहराया।

रिंकू के छोटे भाई मन्नू शर्मा ने भी ‘जय वीर बजरंगी’ का उद्घोष करते हुए उपस्थित लोगों का श्रद्धांजलि सभा में आने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि उनका भाई मरा नहीं है, बल्कि उसने बलिदान दिया है। मंगोलपुरी में सुरक्षा के अब भी तगड़े इंतजाम हैं और रिंकू के घर की तरफ जाने वाली गलियों में पुलिस की बैरिकेडिंग है। मेटल डिटेक्टर से जाँच के बाद ही लोगों को आगे जाने की अनुमति दी जा रही है।

हालात सामान्य होने तक सुरक्षा बलों की तैनाती जारी रहेगी। पुलिस इलाके के लोगों से संवाद कर के शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील कर रही है। उधर, कपिल मिश्रा ने पीड़ित परिवार की मदद के लिए जो अभियान चलाया था, उसके तहत अब तक अब तक करीब 8.5 हजार लोगों ने मिल कर 80 लाख से भी अधिक की राशि ‘Crowdcash’ वेबसाइट के जरिए इकट्ठी की है। उन्होंने एक करोड़ रुपए का लक्ष्य रखा है। मनीष मुंद्रा के 5 लाख रुपए मिला दें तो ये आँकड़ा 85 लाख हो जाता है।

कपिल मिश्रा ने कहा कि वो मंगलवार को रिंकू के परिवार से मिलने के लिए जाएँगे। उन्होंने कहा कि इस नृशंस हत्या के 5 दिन बीतने के बावजूद दिल्ली के सीएम ने पीड़ित परिवार से मिलना तो दूर, संवेदना के दो शब्द तक नहीं कहा। दिल्ली के पूर्व मंत्री मिश्रा ने कहा कि केजरीवाल अपना वोट बैंक नाराज होने के डर से ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हत्यारे केजरीवाल के वोट बैंक वाले लोग थे। उन्होंने कहा:

“देश की राजधानी में बैठ कर वोट बैंक की घटिया राजनीति हो रही है और उन्हें एक शब्द भी बोलना गँवारा नहीं है, हमारे बेटे की हत्या पर? मुझे केवल इस बात का संतोष है कि केजरीवाल की इस शर्मनाक राजनीति का हम सबने मिल कर जवाब दिया है। पूरी दुनिया से लोगों ने पीड़ित परिवार को श्रद्धांजलि दी है और सहयोग राशि भी दी है। हम उनका बेटा वापस नहीं ला सकते, लेकिन परिवार अकेला और कमजोर न पड़े- ये जिम्मेदारी तो हम उठा ही सकते हैं।”

कपिल मिश्रा ने बताया कि अब जल्द ही उस धनराशि को परिवार के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। उन्होंने पूरे देश से पूछा कि क्या वोट बैंक की इस घिनौनी राजनीति को चलने देनी चाहिए, जो केजरीवाल कर रहे हैं? उन्होंने कहा कि हमारे बेटों के पीठ पर खंजर घोंपा जाए और हमारा ही सीएम एक शब्द न बोले? उन्होंने कहा कि AAP अपने वोट बैंक को खुश करे, हम परिवार के साथ हैं।

बताते चलें कि रिंकू शर्मा के भाई मन्नू के मुताबिक, राम मंदिर शिलान्यास के बाद से ही पड़ोस में रहने वाले नसरूदीन के परिवार से उनके भाई की अक्सर कहासुनी हुआ करती थी। इसको लेकर दोनों परिवारों के बीच काफी समय से मतभेद था। पहले भी कई बार ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने, हनुमान चालीसा का पाठ कराने, गली में दीप जलाने को लेकर मुस्लिम परिवार ने गाली-गलौज और मारपीट की थी। 10 फरवरी 2021 की रात बजरंग दल के कार्यकर्ता रिंकू शर्मा पर घर में घुसकर हमला किया गया था। अगले दिन उनकी मौत हो गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,314FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe