Friday, July 19, 2024
HomeराजनीतिPM मोदी के कार्यक्रम में लगे थे जो सफाईकर्मी, DMK के नगर निगम ने...

PM मोदी के कार्यक्रम में लगे थे जो सफाईकर्मी, DMK के नगर निगम ने उनके लिए कूड़े की गाड़ी में भेजा खाना: श्रीरंगम मंदिर में पहुँचे थे प्रधानमंत्री

20 जनवरी, 2024 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का तिरुचिरापल्ली नगर निगम के अंतर्गत आने वाले श्रीरंगम का दौरा था। इस दौरे में वह रंगनाथस्वामी मंदिर जाने वाले थे।

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली से सफाईकर्मियों के अपमान का एक बड़ा मामला सामने आया है। यहाँ प्रधानमंत्री मोदी के दौरे से पहले साफ-सफाई के काम में लगे सफाई कर्मचारियों को कूड़े की गाड़ी में खाना भेजा गया। यह कारनामा तिरुचिरापल्ली नगर निगम ने किया।

20 जनवरी, 2024 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का तिरुचिरापल्ली नगर निगम के अंतर्गत आने वाले श्रीरंगम का दौरा था। इस दौरे में वह रंगनाथस्वामी मंदिर जाने वाले थे। इससे पहले यहाँ पर शहर की साफ सफाई करने के लिए लगभग 200 लोगों को ड्यूटी पर लगाया गया था।

इनको शुक्रवार (19 जनवरी, 2024) को जब खाना भेजा गया तो यह एक कूड़े की गाड़ी में भेजा गया। इस गाड़ी में इनके खाने के बर्तन रखे गए। गाड़ी में पहले से प्लास्टिक का कूड़ा भरा हुआ था। इसकी तस्वीरें लोगों ने खींच कर वायरल कर दीं। लोगों ने तिरुचिरापल्ली नगर निगम पर प्रश्न खड़े किए।

आनन फानन में इसके बाद यह खाना वापस किया गया। तिरुचिरापल्ली नगर निगम इस पूरे विवाद से बचता भी नजर आया और उसके अधिकारियों ने बताया कि खाना ऑटो से भेजा गया था लेकिन इसे बाद में कूड़े वाली गाड़ी पर रख दिया गया। इसे अम्मा कैंटीन में बनाया गया था। बताया जा रहा है लोगों के कहने के बाद यह खाना वापस कैंटीन भेजा गया।

कूड़े की गाड़ी में खाना देखने वाले लोगों ने शिकायत की कि अगर वह यह नहीं देखते तो यही खाना कर्मचारियों में वितरित कर दिया जाता। हालाँकि इस मामले में बैकफुट पर आने के बाद तिरुचिरापल्ली नगर निगम ने तीन कर्मचारियों को निलंबित भी कर दिया। गौरतलब है कि त्रिची नगर निगम पर तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी डीएमके ही काबिज है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यहाँ श्रीरंगम में मंदिर में दर्शन और पूजन अर्चन करने पहुँचे थे। यह राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले की उनकी उपासना का हिस्सा है। वह आज (21 जनवरी, 2023) को तमिलनाडु के रामेश्वरम पहुँचे हैं और उस जगह पर साधना की जहाँ से रामसेतु चालू होता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -