Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजगमछे में चेहरे को लपेटकर UP के कोर्ट पहुँचा मोहम्मद जुबैर, नेटिजन्स पूछ रहे...

गमछे में चेहरे को लपेटकर UP के कोर्ट पहुँचा मोहम्मद जुबैर, नेटिजन्स पूछ रहे थे- ये कान क्यों छिपा रहा: जमानत पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

"जुबैर कौन है? वह अपनी हर एक फोटो में सिर्फ चेहरा ही नहीं, बल्कि कान भी छुपा रहा है। एक बहुत ही कट्टर और प्रशिक्षित आतंकवादी ही चेहरे की पहचान करने वाले सॉफ़्टवेयर को मात देने के लिए अपने कानों को छुपाता है।"

फैक्ट न्यूज के नाम पर प्रोपेगेंडा फैलाने वाले ऑल्ट न्यूज के को फाउंडर मोहम्मद जुबैर को गुरुवार (7 जुलाई 2022) को उत्तर प्रदेश के सीतापुर स्थित कोर्ट में दिल्ली पुलिस ने पेश किया। वहाँ कथित फैक्ट चेकर को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

दरअसल, जुबैर ने बजरंगमुनि, यति नरसिंहानंद आनंद स्वरूप को ‘घृणा फैलाने वाला’ कहा था। इस मामले हिन्दू शेर सेना के अध्यक्ष भगवान शरण की शिकायत पर केस दर्ज किया गया था। खैराबाद थाने में 1 जून को मोहम्मद जुबैर के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुँचा फैक्ट चेकर

इस बीच कथित फैक्ट चेकर ने सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है। जुबैर की ओर सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए वरिष्ठ वकील कॉलिन गोंजाल्विस ने जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस जेके माहेश्वरी की वैकेशन बेंच के समक्ष दलीलें पेश की। जुबैर ने कोर्ट में कहा कि उसका काम खबरों की जाँच करना है और इसके लिए उसे हत्या की धमकियाँ दी जाती हैं। मामले को आज (गुरुवार) 2 बजे लिस्टेड करने की माँग भी की। इसके साथ ही जुबैर ने दावा किया कि इस मामले में उसने इलाहाबाद हाई कोर्ट का भी रुख किया था।

मामले की सुनवाई कर रही पीठ ने कहा कि किसी भी मामले को लिस्टेड केवल चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ही कर सकते हैं। पीठ ने निर्देश दिया, “भारत के मुख्य न्यायाधीश द्वारा मंजूरी के अधीन मामले को कल सूचीबद्ध करें।” यानि कि जुबैर की जमानत याचिका पर 8 जुलाई को सुनवाई होगी।

जुबैर के चेहरा ढँकने पर नेटिजन्स की प्रतिक्रिया

हर बार देखा जाता है कि जब भी मोहम्मद जुबैर को कहीं ले जाया जाता है तो वो अपने चेहरे को ढँक के रखता है। इसी को लेकर शुभेंन्दु नाम के यूजर ने कहा, “आखिर जुबैर अपने चेहरे को क्यों ढँक कर रखता है, उसमें भी कान हमेशा ढँके रहता है। क्या राज है?

इसी तरह राहुल कौशिक नाम के यूजर ने कहा, “जुबैर कौन है? वह अपनी हर एक फोटो में सिर्फ चेहरा ही नहीं, बल्कि कान भी छुपा रहा है। एक बहुत ही कट्टर और प्रशिक्षित आतंकवादी ही चेहरे की पहचान करने वाले सॉफ़्टवेयर को मात देने के लिए अपने कानों को छुपाता है, जो उसकी पिछली आपराधिक हरकतों या भविष्य से उसकी पहचान करता है।”

राष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के विश्लेषक दिव्य कुमार सोती ने कहा कि जुबैर जिस तरह से अपने कान छुपाता है, वह हाईली ट्रेंड लगता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमेरिका की उप-राष्ट्रपति ने राहुल गाँधी से फोन पर की बात, दुनिया मानती है अगला PM’: कॉन्ग्रेस इकोसिस्टम के साथ-साथ मीडिया ने चलाई खबर,...

खुद को लेखक बताने वाले हर्ष तिवारी ने दावा किया कि लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद राहुल गाँधी का कद काफी बढ़ गया है, दुनिया उन्हें अगले प्रधानमंत्री के रूप में देख रही है।

जिसे ‘चाणक्य’ बताया, उसके समर्थन के बावजूद हारा मौजूदा MLC: महाराष्ट्र में ऐसे बिखरा MVA गठबंधन, कॉन्ग्रेस विधायकों ने अपनी ही पार्टी को दिया...

जिस जयंत पाटील के पक्ष में महाराष्ट्र की राजनीति के कथित चाणक्य और गठबंधन के अगुवा शरद पवार खुद खड़े थे, उन्हें ही हार का सामना करना पड़ा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -