Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजफेसबुक पोस्ट को लेकर हयात खान की शिकायत पर भूषण सोनी गिरफ्तार, मजहबी भावना...

फेसबुक पोस्ट को लेकर हयात खान की शिकायत पर भूषण सोनी गिरफ्तार, मजहबी भावना को ‘ठेस’ का आरोप

पुलिस ने कहा कि भूषण सोनी के पोस्ट को विभिन्न सोशल मीडिया ग्रुप्स पर कई बार शेयर किया गया था, जिसके बाद कई लोग सोनगढ़ पुलिस स्टेशन पहुँचे और पुलिस से आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया।

गुजरात के सोनगढ़ में पुलिस ने सोमवार (फरवरी 15, 2021) को एक समुदाय के खिलाफ कथित तौर पर घृणा भरे संदेश (हेट स्पीच) और आपत्तिजनक तस्वीरें पोस्ट करने के आरोप में 32 वर्षीय भूषण सोनी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने कहा कि हयात खान पठान नामक व्यक्ति द्वारा की गई शिकायत के बाद संदेशों और तस्वीरों को भी इंटरनेट से हटा दिया गया है। आरोपित भूषण सोनी सूरत में एक कपड़ा फैक्ट्री में काम करता है और वह सोनगढ़ का निवासी है।

समाचार पत्र ‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने बताया कि कथित घृणा संदेश और आपत्तिजनक तस्वीरें पोस्ट करके धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोपों को लेकर रमणिया पार्क सोसाइटी के निवासी भूषण सोनी के खिलाफ रविवार को तापी जिले के सोनगढ़ पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज हुई थी।

पुलिस ने हयात खान की शिकायत के आधार पर धर्म, जाति, जन्म स्थान, और भाषा के आधार पर सोनी के खिलाफ विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देने के संबंध में आईपीसी 153 (ए) के तहत केस दर्ज किया है। इसके अलावा, धार्मिक भावनाओं को अपमानित करने के इरादे से जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्यों के लिए 295 (ए) के अंतर्गत भी केस दर्ज किया गया है।

पुलिस ने कहा कि भूषण सोनी के पोस्ट को विभिन्न सोशल मीडिया ग्रुप्स पर कई बार शेयर किया गया था, जिसके बाद कई लोग सोनगढ़ पुलिस स्टेशन पहुँचे और पुलिस से आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया।

सोनगढ़ पुलिस इंस्पेक्टर एचसी गोहिल ने कहा, “सोनी को रविवार को अपने फेसबुक पेज पर अभद्र पोस्ट अपलोड करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। उन्होंने हमारे निर्देशों पर अपने अकाउंट से इन संदेशों को हटा दिया है। हमें पता चला है कि करीब एक साल पहले भी उसने अपने फेसबुक पेज पर इस तरह के अभद्र संदेश और तस्वीरें डाली थीं। उस समय, कोई भी पुलिस शिकायत दर्ज नहीं की गई थी और स्थानीय निवासियों द्वारा उन्हें इस तरह की हरकत दोबारा ना करने की भी सख्त सलाह दी गई थी।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राणा अयूब बनीं ट्रोलिंग टूल, कश्मीर पर प्रोपेगेंडा चलाने के लिए आ रहीं पाकिस्तान के काम: जानें क्या है मामला

पाकिस्तान के सूचना मंत्रालय से जुड़े लोग ऑन टीवी राणा अयूब की तारीफ करते हैं। वह उन्हें मोदी सरकार का पर्दाफाश करने वाली ;मुस्लिम पत्रकार' के तौर पर जानते हैं।

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe