Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाज'तारक मेहता…' के राइटर ने की आत्‍महत्‍या: परिवार ने कहा- उन्हें ब्लैकमेल कर रहे...

‘तारक मेहता…’ के राइटर ने की आत्‍महत्‍या: परिवार ने कहा- उन्हें ब्लैकमेल कर रहे थे, हमें दे रहे हैं धमकी

"मैंने भाई के ईमेल्‍स चेक किए, क्‍योंकि जब से उनकी मौत हुई है मुझे पैसों के लिए बहुत सारे फोन कॉल्‍स आ रहे हैं। इनमें से एक फोन कॉल बांग्‍लादेश के नंबर से, एक म्‍यांमार के नंबर और बाकी भारत के दूसरे राज्‍यों से आए हैं। मुझे भाई के ईमेल्‍स से पता चला कि उन्‍होंने 'इजी लोन' ऐप के जरिए छोटे कर्ज लिए, जिनका ब्‍याज दर बहुत ज्‍यादा था।"

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की असामयिक मृत्यु की खबर सुर्खियों में आने के बाद से ही कई टेलीविजन और बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ की कथित रूप से आत्महत्या करने की खबर सामने आ रही है। इस तरह का एक और मामला सामने आया है। लोकप्रिय टेलीविजन कॉमेडी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के लेखक अभिषेक मकवाना ने आत्महत्या कर ली है। 37 साल के अभ‍िषेक का शव कांदि‍वली स्‍थ‍ित उनके फ्लैट से 27 नवंबर को मिला। पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है।

कथित तौर पर पुलिस ने उनके फ्लैट से एक सुसाइड नोट बरामद किया था, जो कि गुजराती में था। इसमें मकवाना ने अपने आत्महत्या का कारण पिछले कुछ महीनों से चल रहे वित्तीय संकट को बताया है।

हालाँकि, लेखक के परिवार ने दावा किया है कि अभिषेक मकवाना साइबर धोखाधड़ी और ब्लैकमेल का शिकार हुआ था। परिवार ने कहा कि लेखक की मृत्यु के बाद भी उन्हें धमकी भरे फोन आ रहे हैं। परिवार के मुताबिक, अभिषेक द्वारा लिए गए कर्ज का भुगतान करने के लिए उन पर लगातार दबाव डाला जा रहा है। कथित तौर पर उनके भाई जेनिस ने कहा कि उन्हें अभिषेक की मृत्यु के बाद इन मुद्दों के बारे में पता चला जब उन्हें फ़ोन आने शुरू हुए।

जेनिस कहते हैं, “मैंने भाई के ईमेल्‍स चेक किए, क्‍योंकि जब से उनकी मौत हुई है मुझे पैसों के लिए बहुत सारे फोन कॉल्‍स आ रहे हैं। इनमें से एक फोन कॉल बांग्‍लादेश के नंबर से, एक म्‍यांमार के नंबर और बाकी भारत के दूसरे राज्‍यों से आए हैं। मुझे भाई के ईमेल्‍स से पता चला कि उन्‍होंने शुरुआत में ‘इजी लोन’ ऐप के जरिए छोटे कर्ज लिए, जिनका ब्‍याज दर बहुत ज्‍यादा था।”

जेनिस ने आगे कहा, “मैंने उनके और भाई के बीच हुए पैसों के लेन-देन का जायजा लिया। मैंने पाया कि मेरे भाई ने आवेदन नहीं किया था, बावजूद इसके उन्‍हें कुछ पैसे भेजे गए। इनका ब्‍याज दर 30 परसेंट से भी ज्‍यादा है। भाई के फोन में भी टेक्‍स्‍ट मैसेज हैं, जिनसे पता चलता है कि उन्‍हें ब्‍लैकमेल किया जा रहा था।”

जेनिस ने बताया कि भाई की मृत्यु के बाद जब लोन देने वालों को उनकी आत्महत्या के बारे में सूचित किया गया और कहा कि वह और उनका परिवार अभी इस मुद्दे पर चर्चा करने की स्थिति में नहीं हैं, तो वो और अधिक अपमानजनक हो गए।

गौरतलब है कि पुलिस ने परिवार द्वारा लगाए गए आरोपों को मद्देनजर रखते हुए जाँच शुरू कर दी है और धोखाधड़ी के आरोपों पर अधिक जानने के लिए लेनदेन के विवरण के लिए बैंक से संपर्क किया है।

वहीं मामले की जाँच कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि, “फिलहाल हमारे पास कोई पक्‍के सबूत नहीं हैं कि कर्ज देने वाली कंपनी उन्‍हें परेशान कर रही थी। जब हमें कुछ पुख्‍ता मिलेगा, हम जरूरी कार्रवाई करेंगे।”

बता दें कॉमेडी सीरीज तारक मेहता का उल्टा चश्मा का 28 जुलाई 2008 को सोनी पिक्चर्स नेटवर्क इंडिया के चैनल, सब टीवी पर प्रसारण शुरू हुआ था। हाल ही में इस शो के 3000 एपिसोड पूरे हुए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,090FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe