Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजतहजीब रिपोर्टर राशिद ने कहा- भगवा झंडा लगा कर बेच रहा है सब्ज़ी, मेरठ...

तहजीब रिपोर्टर राशिद ने कहा- भगवा झंडा लगा कर बेच रहा है सब्ज़ी, मेरठ पुलिस ने कहा- उसे अनुमति है

ट्विटर पर तहजीब टीवी के रिपोर्टर राशिद ने एक ऐसे व्यक्ति की शिकायत कर कार्रवाई की माँग की जिसने अपने सब्जी के ठेले पर भगवा झंडा लगा रखा था। जॉंच के बाद मेरठ पुलिस ने बताया कि इस व्यक्ति को लॉकडाउन में सामान बेचने की अनुमति प्राप्त है।

तहजीब टीवी के रिपोर्टर राशिद ने मेरठ में भगवा झंडा लगाकर सब्जी बेचने वाले की गई शिकायत सोशल मीडिया के जरिए की। शुरुआत में उत्तर प्रदेश पुलिस ने कार्रवाई की बात कही। बाद में जाँच में मेरठ पुलिस ने पाया कि उस सब्जी बेचने वाले के पास देशव्यापी बंद के दौरान सब्जी बेचने का पास मौजूद था।

दरअसल ट्विटर पर तहजीब टीवी के रिपोर्टर राशिद ने एक ऐसे व्यक्ति की शिकायत कर कार्रवाई की माँग की जिसने अपने सब्जी के ठेले पर भगवा झंडा लगा रखा था। तहजीब रिपोर्टर ने यह वीडियो ट्विटर पर पोस्ट करते हुए तमाम पुलिस अकाउंट को टैग करते हुए लिखा- “कंकरखेड़ा क्षेत्र के गुरु नानक बाजार में ठेले पर सब्जी विक्रेता भगवा रंग का ध्वज लगाकर सब्जी बेच रहे है!”

UP पुलिस ने इस पर जवाब देते हुए मेरठ पुलिस को टैग कर इसकी जाँच करने के निर्देश दिए। इस पर सोशल मीडिया यूजर्स ने आपत्ति जताते हुए उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ की एक तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा कि इन पर भी कार्रवाई करें।

इसके कुछ देर बाद ही मेरठ पुलिस ने ट्वीट करते हुए स्पष्ट किया कि सब्जी बेचने वाले के पास लॉकडाउन के दौरान सब्जी बेचने के लिए आवश्यक पास मौजूद हैं। मेरठ पुलिस ने लिखा, “उक्त व्यक्ति को लॉकडाउन में सामान बेचने की अनुमति प्रदान है। सोशल डिस्टेंसिंग व लॉकडाउन का पालन करने हेतु निर्देशित किया गया है।”

उल्लेखनीय है कि हाल में मुस्लिमों ने सोशल मीडिया के जरिए झारखंड जैसे राज्य में हिन्दू प्रतीक और भगवा झंडा देखकर उन पर कार्रवाई करने की माँग की। झारखंड में पुलिस ने कई दुकानों से हिन्दू संगठनों के पोस्टर्स हटा दिए।

सोशल मीडिया पर झारखंड में फल बेचने वाले दुकानदारों की तस्वीरों पर झारखंड पुलिस को टैग करते हुए ‘शिकायत‘ दर्ज की गईं। हालाँकि, पुलिस ने भी यह पूछने के बजाए कि दुकान पर हिन्दू संगठन के नाम से किसी की धार्मिक भावनाएँ कैसे आहत हो सकती हैं? सीधे यह सूचना दी कि दुकानों से ऐसे बैनर हटवा दिए गए हैं।

इसी क्रम में तहजीब रिपोर्टर ने भी आज यह पहल की थी। हालाँकि, पुलिस ने जाँच के बाद स्पष्ट किया कि सब्जी बेच रहे व्यक्ति को सब्जियाँ बेचते टाइम लॉकडाउन के नियमों का पालन करने सम्बन्धी निर्देश दे दिए गए हैं ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अपनी ही कब्र खोद ली’: टाइम्स ऑफ इंडिया ने टोक्यो ओलंपिक में भारतीय तीरंदाजी टीम की हार का उड़ाया मजाक

दक्षिण कोरिया के किम जे ड्योक और आन सन से हारने के बाद टाइम्स ऑफ इंडिया ने दावा किया कि भारतीय तीरंदाजी टीम औसत से भी कम थी और उन्होंने विरोधियों को थाली में सजाकर जीत सौंप दी।

‘सचिन पायलट को CM बनाओ’: कॉन्ग्रेस के बड़े नेताओं के सामने जम कर हंगामा, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बुलाई थी बैठक

राजस्थान में मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों के बीच बहस और हंगामेबाजी हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,156FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe