Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजMBA कर रहे केरल के अबीन शिबी ने एसिड से 3 छात्राओं को जलाया,...

MBA कर रहे केरल के अबीन शिबी ने एसिड से 3 छात्राओं को जलाया, 1 की हालत गंभीर: पीड़िता लड़की ने ठुकराया था ‘सनकी’ का प्रपोजल

कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में सोमवार (4 अप्रैल 2024) को कॉलेज जा रही 3 छात्राओं पर एसिड फेंके जाने का मामला सामने आया है। हमले में तीनों छात्रा झुलस गई हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। एक छात्रा की हालात गंभीर बताई जा रही है। एसिड फेंकने वाले आरोपित की पहचान 24 वर्षीय अबिन शिबी के तौर पर हुई है। कॉलेज प्रशासन ने आरोपित को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में सोमवार (4 अप्रैल 2024) को कॉलेज जा रही 3 छात्राओं पर एसिड फेंके जाने का मामला सामने आया है। हमले में तीनों छात्रा झुलस गई हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। एक छात्रा की हालात गंभीर बताई जा रही है। एसिड फेंकने वाले आरोपित की पहचान 24 वर्षीय अबिन शिबी के तौर पर हुई है। कॉलेज प्रशासन ने आरोपित को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है। आरोपित के हमले की वजह प्यार में नाकाम होना बताया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना दक्षिण कन्नड़ जिले के कड़ाबा थाना क्षेत्र की है। यहाँ के सरकारी प्री यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली एक छात्रा अपनी 2 सहेलियों के साथ कॉलेज के परीक्षा हॉल में प्रवेश कर रही थी, तभी केरल के मलप्पुरम के नीलांबुर इलाके का रहने वाला अबिन शिबी वहाँ पहुँचा। अबिन ने बोतल में लाए तेजाब को छात्रा के चेहरे पर फेंक दिया। यह तेज़ाब छात्रा के साथ मौजूद उसकी 2 सहेलियों पर भी पड़ा। तेजाब के हमले से तीनों छात्राएँ बुरी तरह से झुलस गईं। तीनों को अस्पताल भेजा गया है। इसमें से एक की हालत गंभीर बताई जा रही है।

घायल हुई तीनों लड़कियों की पहचान अमृता, अलीना और अर्चना के तौर पर हुई है। इस हमले से आसपास अफरा-तफरी का माहौल बन गया। इसी माहौल में मास्क लगाए, अबिन मौका देखकर भागने का प्रयास करने लगा। हालाँकि, कॉलेज प्रशासन ने दौड़ाकर अबिन को पकड़ लिया। घटना की सूचना मिलने पर पहुँची पुलिस ने अबिन को हिरासत में ले लिया। आरोपित से पूछताछ शुरू कर दी गई है। शुरुआती पूछताछ में यह घटना प्यार में नाकामी से जुड़ी नजर आ रही है।

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, अबिन ने कॉलेज में घुसने के लिए वहाँ की यूनिफॉर्म पहन रखी थी। वह MBA का छात्र है। कॉलेज प्रशासन इस मामले की भी जाँच करवा रहा है कि उसे यूनिफॉर्म किसने और किस मकसद से दी थी। पुलिस के मुताबिक, आरोपित और पीड़िता एक ही जिले और एक ही समुदाय से हैं। पहले अबिन और पीड़िता में जान-पहचान थी। बीच में किसी वजह से दोनों के बीच दूरी आ गई। इसी बीच पीड़िता कर्नाटक आ गई। यहाँ अबिन उसका पीछा करते हुए पहुँच गया।

पुलिस की पूछताछ में अबिन ने यह भी बताया कि उसका इरादा केवल एक लड़की को निशाना बनाना था। बाकी 2 अन्य घायल लड़कियों के लिए उसका कहना है कि वो गलती से बीच में आ गईं। पीड़िता के चेहरे पर थर्ड डिग्री की जलन आई है। कड़ाबा पुलिस ने कॉलेज प्रशासन की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर IPC की धारा 326(ए) के तहत FIR दर्ज की है। पुलिस का कहना है कि यदि पीड़िता के माता-पिता मामले में शिकायत दर्ज करवाएँगे तो आरोपित के खिलाफ पॉक्सो एक्ट की धाराओं में भी केस दर्ज किया जाएगा।

वहीं, उडुपी से लोकसभा सांसद और भाजपा नेता शोभा करंदलाजे ने इस घटना का संज्ञान लिया है। उन्होंने कर्नाटक में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर सत्तारूढ़ कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने अपने X हैंडल पर लिखा कि पीड़िता का भविष्य अधर में लटक गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -