Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजगौशाला में लगा दी आग, ज़िंदा जल कर राख हो गई 3 गर्भवती गायें:...

गौशाला में लगा दी आग, ज़िंदा जल कर राख हो गई 3 गर्भवती गायें: रात के अँधेरे में बदमाशों ने दिया घटना को अंजाम

जक्कनपुर के थानेदार ने बताया कि आरोपित जहाँ कहीं भी होंगे, पुलिस उन्हें ढूँढ निकालेगी। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की पड़ताल भी की जा रही है।

बिहार की राजधानी पटना में असामाजिक तत्वों ने एक खटाल में आग लगा दी। आग से खटाल में बँधी तीन गर्भवती गायें जिंदा जल गईं। यह घटना जक्कनपुर थाना इलाके के करबिगहिया पानी टंकी रोड स्थित एमएस गैस एजेंसी के नजदीक गुरुवार (सितंबर 9, 2021) की देर रात हुई। खटाल में आग लगाने की वारदात के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया। हालाँकि समय रहते जक्कनपुर थानेदार मुकेश कुमार वर्मा दल-बल के साथ मौके पर पहुँच गए और मामले को शांत कराया।

इस खटाल का मालिक राजेश कुमार है। इसे वो पिछले दो-ढ़ाई सालों से चलाता आ रहा है। जब से खटाल खुला, उसके बाद से ही पास-पड़ोस के कुछ लोग वहाँ से खटाल को हटवाना चाहते थे। इस वजह से पहले कई बार झगड़ा भी हो चुका है। आशंका जताई जा रही थी कि विरोध करने वालों ने ही आग लगाई होगी। 

राजेश का घर खटाल से कुछ दूर है। उन्होंने बताया कि 12 बजे मवेशियों की देखरेख करने के बाद वे वापस अपने घर चले गए थे। रात तक सब कुछ ठीक था। लेकिन, शुक्रवार (सितंबर 10, 2021) सुबह में वहाँ का नजारा ही बदला हुआ था। पड़ोसिों ने राजेश को सूचना दी कि देर रात को किसी ने खटाल में आग लगा दी। जिसमें वहाँ मौजूद मवेशियों की जलकर मौत हो गई। इस वजह से वहाँ का माहौल ही बिगड़ने लगा था। जक्कनपुर के थानेदार मुकेश वर्मा ने वहाँ बिगड़ते हालत पर काबू पाया। 

थानेदार के अनुसार आग कब और किन लोगों ने लगाई? इसका पता नहीं चल पाया है। नुकसान की भरपाई के लिए सीओ से बात की गई है। थाना पर ही वेटनरी कॉलेज के डॉक्टर को बुलाकर मरे हुए मवेशियों का पोस्टमार्टम कराया गया है और नियम कानून के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

जक्कनपुर के थानेदार ने बताया कि आरोपित जहाँ कहीं भी होंगे, पुलिस उन्हें ढूँढ निकालेगी। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की पड़ताल भी की जा रही है। पुलिस अपने स्तर से भी इस घटना को अंजाम देने वालों के बारे में जानकारी इकट्ठा कर रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe