Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजरात भर सुनता था पाकिस्तानी मौलाना की तकरीरें, घर से मिली जिहादी सामग्रियाँ: जिस...

रात भर सुनता था पाकिस्तानी मौलाना की तकरीरें, घर से मिली जिहादी सामग्रियाँ: जिस लारेब हाशमी ने की ‘सर तन से जुदा’ की कोशिश, खँगाले जा रहे बैंक खाते

प्रयागराज में बस कंडक्टर हरिकेश पर चापड़ से हमला करने वाला लारेब हाशमी हिन्दुओं के खिलाफ तकरीरें देने वाले पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिज़वी का फैन था। वो सुबह 4 बजे तक मोबाइल में उसकी ऑनलाइन तकरीरें सुनता था। उसके कमरे से जिहादी साहित्य भी बरामद हुए हैं।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में शुक्रवार (24 नवंबर 2023) को B.Tech के छात्र लारेब हाशमी ने सरकारी बस के कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा पर चापड़ से हमला कर दिया था। इस हमले में गंभीर रूप से घायल हरिकेश का अस्पताल में इलाज चल रहा है। एक मुठभेड़ के बाद पुलिस ने लारेब हाशमी को गिरफ्तार कर लिया है। अदालत ने हाशमी 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

पूछताछ में पता चला है कि हाशमी यूट्यूब पर मौलानों की भड़काऊ तकरीरें सुनता था, जिनमें पाकिस्तानी मौलाना भी शामिल हैं। उसकी मोबाइल की सर्च हिस्ट्री में इसके सबूत मिले हैं। उसके लैपटॉप, मोबाइल, पेन ड्राइव और चिप को जब्त करके फॉरेंसिक जाँच के लिए भेजा गया है। जाँच में मिले सबूतों के आधार पर अब मामले में आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) ने भी इंट्री की है।

हाशिम के बैंक खातों की भी जाँच की जा रही है। एजेंसियाँ ये भी पता लगा रही हैं कि पॉल्ट्री की दुकान चलाने वाले के बेटे हाशिम की इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए पैसे कहाँ से आए। उसे कहाँ-कहाँ से और किसने पैसे भेजे, इसकी पड़ताल की जा रही है। लारेब के कमरे में कुछ किताबें भी मिली हैं। इसमें से कुछ जिहादी साहित्य बताए जा रहे हैं।

एजेंसियों ने पूछताछ के लिए उसके परिवार के लोगों और साथियों की लिस्ट तैयार कर रही है। वहीं, उसके कुछ करीबियों को पूछताछ के लिए उठाया भी गया है। जिस यूनाइटेड इंजीनियरिंग कॉलेज में लारेब B.Tech की पढ़ाई कर रहा था, उसने निलंबित कर दिया है। अब उसे कॉलेज से निकालने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

अब तक की जाँच में ये बात भी सामने आई है कि लारेब हाशमी पिछले 8 माह से कट्टरपंथ की राह पर तेजी से बढ़ा। वो सुबह के 4 बजे तक ऑनलाइन जिहादी वीडियो देखा करता था। अंतिम 2 माह में उसने पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिज़वी की तकरीरें सबसे ज्यादा सुनीं। वह बातचीत में अरबी और उर्दू के शब्दों के अधिक से अधिक इस्तेमाल करता था।

बस कंडक्टर पर हमले के बाद लारेब हाशमी ने जो वीडियो जारी किया था, उसमें भी उसने इस पाकिस्तानी मौलाना का जिक्र किया था। उसने कहा था, “ए खादिम हुसैन रिज़वी, आपने कहा था, अल्लाह के नाम पर निकलो, फ़रिश्ते आएँगे, एक भी हत्या मत करना, इस्लाम के दुश्मन करेंगे लाशों का ढेर लगाना।” मौलाना रिज़वी तहरीक-ए-लब्बेक का संस्थापक था।

पता चला है कि लारेब हाशमी दो भाइयों और एक बहन में लारेब दूसरे नंबर पर है। परिवार और आसपास के लोग उसे काफी गुस्सैल स्वभाव वाला बताते हैं। इस मामले में उससे और अधिक पूछताछ के लिए पुलिस जल्दी ही अदालत से लारेब की कस्टडी रिमांड माँग सकती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -