Monday, April 15, 2024
Homeराजनीति'EVM में सपा का चुनाव चिह्न साइकिल गायब': यूपी पुलिस ने सबूत देकर आरोपों...

‘EVM में सपा का चुनाव चिह्न साइकिल गायब’: यूपी पुलिस ने सबूत देकर आरोपों को नकारा

पुलिस ने कहा, "थाना अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम किराचन में बूथ संख्या 38 से सूचना प्राप्त हुई कि सपा का चुनाव चिह्न साइकल पर बटन दबाने पर चुनाव चिह्न दिखता नहीं है। इस सूचना पर संबंधित इंजीनियर व पीठासीन अधिकारी द्वारा बताया गया कि घटना असत्य है।"

उत्तर प्रदेश में विधानसभा (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के लिए तीसरे चरण का मतदान जारी है। इस बीच समाजवादी अपनी हार को देखते हुए आरोप लगाने लगी है। इससे लपकते हुए वामपंथी मीडिया भी दुष्प्रचार फैलाने में लग गया। अफवाह उड़ाई जा रही है कि EVM मशीन में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का सिंबल साइकल का निशान ही नहीं है। हालाँकि, पुलिस ने इन आरोपों का खंडन किया है।

वामपंथी मीडिया पोर्टल न्यूजक्लिक के पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने इस अफवाह को हवा देने के लिए रविवार (20 फरवरी) को लगभग सवा 11 बजे एक ट्वीट किया। इसमें कहा गया, “फ़र्रुख़ाबाद विधानसभा के बूथ-38 पर EVM में ‘सपा’ का चिह्न ही नहीं है। करहल विधानसभा के भागपुर गाँव में बूथ-244, 245 पर ग्रामीणों को वोट डालने से रोका जा रहा है। अमनपुर विधानसभा 101 बूथ नंबर 324 पर सपा के लिए मतदान करने पर रिस्पांस नहीं मिल रहा है।”

एक अन्य ट्वीट में श्याम मीरा ने कहा, “कन्नौज जिले की विधानसभा तिर्वा की बूथ- 296 पर EVM में साइकिल चिन्ह वाला बटन सही तरीके से काम नहीं कर रहा है। कन्नौज जिले की विधानसभा छिबरामऊ के बूथ- 462, मौरा में पीठासीन अधिकारी पर EVM मशीनों की सील तोड़ के मतदान से पहले ही वोट डालने के प्रयास के आरोप।”

उत्कर्ष सिंह नाम के एक ट्विटर हैंडल ने भी ट्वीट कर यही आरोप लगाया। इस ट्वीट को द वायर की पत्रकार रोहिणी सिंह ने ट्वीट किया।

इसके बाद उत्तर प्रदेश की फतेहपुर पुलिस ने श्याम मीरा सिंह के ट्वीट का जवाब देते हुए इस घटना को झूठा बताया। पुलिस ने कहा, “थाना अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम किराचन में बूथ संख्या 38 से सूचना प्राप्त हुई कि सपा का चुनाव चिह्न साइकल पर बटन दबाने पर चुनाव चिह्न दिखता नहीं है। इस सूचना पर संबंधित इंजीनियर व पीठासीन अधिकारी द्वारा बताया गया कि घटना असत्य है। गाँव का कुलदीप यादव पुत्र वीरेंद्र यादव उम्र 32 साल ने अपने मोबाइल नंबर ……. से सूचना दिया कि प्रत्याशी का फोटो नहीं दिख रहा है, लेकिन ईवीएम मशीन में प्रत्याशी का फोटो नहीं, बल्कि चुनाव चिह्न दिखता है। जाँच के उपरांत सूचना असत्य पाई गई। सुचारु रूप से निष्पक्ष मतदान बूथ संख्या 38 ग्राम कीराचन में चल रहा है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

संदेशखाली में उमड़ा भगवा सैलाब, ‘जय भवानी-जय शिवाजी’ के नारों से गूँजा 4 किमी लंबा जुलूस: लोग बोले- बंगाल में कमल खिलना तय

बंगाल में पोइला बैशाख के मौके पर संदेशखाली में भगवा की लहर देखी गई। सैंकड़ों भाजपा समर्थक सड़कों पर सुवेंदु अधिकारी संग आए और 4 किमी तक जुलूस निकाला गया।

पालघर में संतों को ‘भीड़’ ने पीट-पीटकर मार डाला, सोते रहे उद्धव ठाकरे: शिवसैनिक ने ही किया खुलासा, कहा- राहुल गाँधी के कहने पर...

शिव सेना नेता ने कहा है कि उद्धव ठाकरे ने पालघर में हिन्दू साधुओं की भीड़ हत्या के मामले में सीबीआई जाँच राहुल गाँधी के दबाव में नहीं करवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe