Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजपहले दोस्त बनी मुस्लिम औरतें, फिर घर बुला भाई से करवाया बलात्कार: जबरन धर्म...

पहले दोस्त बनी मुस्लिम औरतें, फिर घर बुला भाई से करवाया बलात्कार: जबरन धर्म परिवर्तन-निकाह, अजमेर ले गए-बंधक बनाकर गैंगरेप भी

आरोप है कि पीड़िता को उसकी मुस्लिम सहेलियों ने अपने घर बुलाकर कैद कर दिया। रेप का वीडियो बनाया। जबरन धर्मांतरण कर उसका निकाह करवाया। फिर उसे बिहार सहित कई जगहों पर बंधक बनाकर रखा गया।

उत्तर प्रदेश के बरेली की एक युवती के साथ आगरा में गैंगरेप का मामला सामने आया है। जबरन धर्म परिवर्तन करवाकर उसका निकाह करवाया गया। अजमेर, इलाहाबाद, बनारस, अकबरपुर, बिहार में भी उसे बंधक बनाकर रखा गया। प्रतिबंधित पशु का मांस खाने के लिए दबाव डाला गया। नशीले इंजेक्शन लगाए गए।

21 साल की पीड़िता की शिकायत पर 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इनकी पहचान अकलीम कुरैशी, शादाब, विसाल, तरन्नुम, शाहाना और गजाला के तौर पर हुई है। रिपोर्टों के अनुसार पीड़िता बरेली के अपने घर में ब्यूटी पार्लर चलाती है। तरन्नुम और गजाला का ब्यूटी पार्लर में आना-जाना था। बाद में इनकी मित्रता हो गई।

मुस्लिम युवतियों पर आरोप है कि उन्होंने पीड़िता को एक दिन अपने घर बुलाया। वहाँ उसे एक कमरे में कैद कर दिया। आरोप है कि तरन्नुम के भाई अकलीम ने हथियार के बल पर लड़की से रेप किया। तरन्नुम और उसकी बहन ने इसका वीडियो बनाया।

रिपोर्ट के अनुसार वीडियो इंटरनेट पर डालने की धमकी देकर उन्होंने लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन करवाया। जबर्दस्ती अकलीम से उसका निकाह करवाया। जब ब्यूटी पार्लर संचालिका के साथ यह सब हुआ, उस समय परिवारवाले उसकी शादी की तैयारी कर रहे थे। इसके लिए घर में रखे नकदी-जेवर भी आरोपितों ने हड़प लिए। पीड़िता का आरोप है कि अकलीम नशीली गोलियाँ और इंजेक्शन देकर उसका शोषण करता था।

जबरन निकाह के बाद अकलीम और उसकी बहनों पर पीड़िता को लेकर अजमेर जाने का आरोप है। फिर इलाहाबाद, बनारस, अकबरपुर, बिहार में उसे बंधक बनाकर रखा गया। बिहार से आगरा लाया गया। यहाँ अकलीम के भाई विसाल और शादाब ने भी उससे रेप किया। इस दौरान उस पर प्रतिबंधित मांस खाने का दबाव बनाया गया। विरोध करने पर मारने-पीटने का भी आरोप है।

रिपोर्टों के अनुसार पीड़िता 23 नवंबर 2022 को किसी तरह आरोपितों के चंगुल से निकली। भीख माँगकर किराया जमा किया। आगरा से बरेली आई और आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -