Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजकन्नौज के मंदिर में घुसकर दिलशाद ने की तोड़फोड़, उमर ने बताया- ये सब...

कन्नौज के मंदिर में घुसकर दिलशाद ने की तोड़फोड़, उमर ने बताया- ये सब किसी ने करने के लिए कहा था

कहा जा रहा है कि दिलशाद के साथ 5-6 साथी और नजर आए थे लेकिन वह भीड़ को देखकर भाग निकले। भीड़ ने इनका पीछा किया और इनमें से एक को पकड़कर पुलिस को सौंपा। इसकी पहचान उमर फारूख उर्फ बंटी के तौर पर हुई है। वह बिरतिया मोहल्ले का निवासी है।

उत्तर प्रदेश के कन्नौज के छिबराऊ में विजय नाथ मंदिर में तोड़फोड़ की घटना के बाद हालात तनावपूर्ण हैं। वहाँ मंगलवार (जून 22, 2021) की सुबह दूसरे समुदाय के व्यक्तिों ने उत्तेजक नारेबाजी करते हुए प्रवेश किया और देवी देवताओं की मूर्ति पर हमला बोल दिया। घटना की जानकारी होने पर हिंदू संगठन पहुँचे और मंदिर की हालत देख कार्रवाई की माँग की गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, घटना छिबरामऊ के प्रमुख विजयपाल चौराहे पर स्थित विजय नाथ मंदिर की है। जहाँ सुबह लगभग 10 बजे दिलशाद नाम का व्यक्ति कुछ लोगों के साथ मंदिर में घुसा और अचानक उसने मंदिर में तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। इस दौरान मंदिर के पुजारी रामकिशोर मिश्रा की नजर उस पर पड़ी। उन्होंने दिलशाद को रोकने का प्रयास किया लेकिन दिलशाद पुजारी से ही भिड़ गया।

पुजारी ने इसके बाद जोर-जोर से हल्ला मचाया और लोगों ने इकट्ठा होकर दिलशाद को पकड़ा। साथ ही उसकी हरकत जानकर उसे पीटा भी। थोड़ी देर में घटना की सूचना पाते ही पुलिस भी पहुँच गई। पुलिस ने दिलशाद को हिरासत में लिया और इलाके में पुलिस बल की तैनाती की गई।

अभी तक इस मामले में तीन लोग हिरासत में लिए गए हैं। हिंदू संगठन इस घटना की जानकारी होने पर प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिस मामले को शांत कराकर कार्रवाई करने का आश्वासन दे रही है।  पीपल चौराहे इलाके में एक मस्जिद की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है।

मीडिया को एसपी अरविंद कुमार ने बताया कि मामले की जाँच की जा रही है। 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है। आरोपितो पर एनएसए भी लगाया जाएगा। अभी मौके पर पुलिस बल तैनात है। जानकारी के मुताबिक आरोपित दिलशाद छिबरामऊ का ही रहने वाला है। पुलिस उसे पकड़कर जानने का प्रयास कर रही है कि उसने ऐसा क्यों किया।

बता दें कि विजय नाथ मंदिर में शिवलिंग, नंदी और नागराज विराजमान है। इनके अलावा मंदिर में राम दरबार, हनुमानजी सहित देवी प्रतिमाएँ भी स्थापित हैं और साईं प्रतिमा भी लगी है। सामने आई तस्वीरों में देख सकते हैं कि नंदी की ही मूर्ति जमीन पर गिरी हुई है। वहीं अन्य चीजें भी अस्त व्यस्त हैं।

मंगलवार सुबह घटित इस घटना में कहा जा रहा है कि दिलशाद के साथ 5-6 साथी और नजर आए थे लेकिन वह भीड़ को देखकर भाग निकले। भीड़ ने इनका पीछा किया और इनमें से एक को पकड़कर पुलिस को सौंपा। इसकी पहचान उमर फारूख उर्फ बंटी के तौर पर हुई है। वह बिरतिया मोहल्ले का निवासी है। अभी तक पुलिस की पूछताछ में आरोपित ने बताया है कि मूर्ति खंडित करने के लिए उसे किसी ने कहा था। लेकिन किसने? ये जवाब अभी तक नहीं मिला है। फिलहाल पुलिस उसे थाने ले जाकर पूछताछ कर रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अफगानिस्तान: पहले कॉमेडियन और अब कवि, तालिबान ने अब्दुल्ला अतेफी को घर से घसीट कर निकाला और मार डाला

अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने भी अब्दुल्ला अतेफी की हत्या की निंदा की और कहा कि अफगानिस्तान की बुद्धिमत्ता खतरे में है और तालिबान इसे ख़त्म करके अफगानिस्तान को बंजर बनाना चाहता है।

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe