Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजगाजियाबाद में आसिफ बने आकाश और सुमैया बनीं प्रिया: शंखनाद और हवन के बीच...

गाजियाबाद में आसिफ बने आकाश और सुमैया बनीं प्रिया: शंखनाद और हवन के बीच लगाए जय श्री राम के नारे, कहा- सनातन धर्म ही सबसे बढ़िया

अब आकाश चौहान बन चुके आसिफ ने कहा, "मुझे सनातन धर्म सबसे बढ़िया और पवित्र धर्म लगा। इस्लाम कोई धर्म नहीं है। आपस में ही शादी-वादी। वो सब बेकार है।"

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में एक मुस्लिम परिवारों के 2 सदस्यों ने घर वापसी की है। आसिफ नाम का युवक घर वापसी करके अब आकाश चौहान बन चुका है जबकि उनकी बीवी सुमैया खातून अब प्रिया नाम से जानी जाएँगी। इस दम्पति ने मंदिर में शंखनाद और वेदमंत्रों के बीच जय श्री राम के नारे लगाए और आगे का जीवन सनातन पद्धति के अनुसार जीने का संकल्प लिया। घर वापसी का यह कार्यक्रम हिन्दू रक्षा दल नाम के संगठन ने रविवार (26 नवंबर, 2023) को करवाया।

हिन्दू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने ऑपइंडिया से बातचीत करते हुए इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घर वापसी करने वाला आसिफ मूल रूप से लोनी का रहने वाला है। उसका टैक्सी का कारोबार है। आसिफ काफी समय से पिंकी चौधरी से खुद को हिन्दू धर्म में लाने की गुजारिश कर रहा था। हालाँकि, उसकी 5 साल पहले शादी सुमैया खातून नाम की लड़की से हुई थी। दोनों का एक बेटा भी है। सुमैया शुरू से ही हिन्दू धर्म से प्रभावित थी।

आखिरकार 26 नवंबर को पिंकी चौधरी ने गाजियाबाद के ही भोपुरा क्षेत्र में पड़ने वाले एक मंदिर में घर वापसी का कार्यक्रम रखा। यहाँ आसिफ और सुमैया ने विधि-विधान से पूजापाठ किया। इस दौरान शंखनाद और वेदमंत्रों के बीच दोनों ने हवन किया और भविष्य में सनातन पद्धति के हिसाब से ही जीवन जीने का फैसला किया। अब आकाश चौहान बन चुके आसिफ ने कहा, “मुझे सनातन धर्म सबसे बढ़िया और पवित्र धर्म लगा। इस्लाम कोई धर्म नहीं है। आपस में ही शादी-वादी। वो सब बेकार है।” बकौल आसिफ उसने खुद ही पिंकी चौधरी से घर वापसी का आग्रह किया था।

वहीं भगवान राम की जय बोलते हुए आसिफ की पहले सुमैया और अब प्रिया चौहान ने भी खुद को बेहद खुश बताया। उन्होंने कहा, “हिन्दू धर्म ही बढ़िया है। इस्लाम में कोई कुछ नहीं होता। ये 3 बार में तलाक कर देते हैं।” प्रिया ने आगे कहा कि अब उनका घर-परिवार सब सही से रहेगा। हिन्दू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने कहा, “पूरा देश इसे देखे और जिसे भी घर वापसी करनी हो वो हमारे पास आए। हम आपकी सुरक्षा और सम्मान की जिम्मेदारी लेते हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या है भारत और बांग्लादेश के बीच का तीस्ता समझौता, क्यों अनदेखी का आरोप लगा रहीं ममता बनर्जी: जानिए केंद्र ने पश्चिम बंगाल की...

इससे पहले यूपीए सरकार के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच तीस्ता के पानी को लेकर लगभग सहमति बन गई थी। इसके अंतर्गत बांग्लादेश को तीस्ता का 37.5% पानी और भारत को 42.5% पानी दिसम्बर से मार्च के बीच मिलना था।

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -