Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजलॉकडाउन के बावजूद पढ़ी गई ईद की सामूहिक नमाज, औरैया से 26 और मुजफ्फरनगर...

लॉकडाउन के बावजूद पढ़ी गई ईद की सामूहिक नमाज, औरैया से 26 और मुजफ्फरनगर से 30 गिरफ्तार

इनमें मंसूर खान, शेख सिराजुद्दीन, साबिर अंसारी, शेख जावेद खान, इदरीश अंसारी, शकूर अंसारी, शेख अब्दुल्ला, सेनुलाहखान, सरफुद्दीन अंसारी, शेख मकसूद,एनुल खान, कमालू खान, सफीक खान, जवाद ख़ान एवं निसार खान के नाम शामिल हैं। सभी 70 लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में FIR दर्ज की गई है।

उत्तर प्रदेश में औरैया जिले के अजीतमल क्षेत्र में सोमवार (मई 25, 2020) को ईद के मौके पर धारा 144 का उल्लघंन कर ईद की सामूहिक नमाज पढ़ने का प्रयास कर रहे 26 लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।

पुलिस ने बताया कि कोविड -19 महामारी के कारण जिले में धारा 144 लागू है और सरकार ने ईद पर सभी को घरों में रहकर नमाज पढ़ने के निर्देश दिए थे। इसके बाद भी अजीतमल के आर्यनगर में स्थित जागी मस्जिद में काफी संख्या में लोग सुबह नमाज पढ़ने को एकत्रित हुए थे।

मस्जिद में नमाज पढ़ रहे 26 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जबकि 8 लोग फरार होने में कामयाब हो गए। फिलहाल उनकी तलाश जारी है।

इसी तरह की घटना उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से सामने आई है। यहाँ के खतौली के कुछ लोगों ने मस्जिद काजियान में सामूहिक रूप से नमाज पढ़ी। सूचना मिलने पर मौके पर पहुँची पुलिस ने 30 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और उनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। सीओ खतौली आशीष प्रताप सिंह और इंस्पेक्टर संतोष कुमार त्यागी ने मौके पर पहुँचकर सभी नमाजियों को बाहर निकाला।

अलीगढ़ में भी नमाज को लेकर मुस्लिम समाज के दो पक्षों के बीच विवाद का मामला सामने आया है। कस्बा के दादों की मस्जिद में जमकर पत्थरबाजी और मारपीट हुई। इलाके में तनाव का माहौल है। पुलिस को तैनात किया गया है।

रविवार (मई 24, 2020) को भी अलविदा नमाज को लेकर कई जगहों पर मस्जिदों में एकत्र होकर सोशल डिस्टेंसिग की धज्जियाँ उड़ाई गईं। राँची के पतसा गाँव के मस्जिद में अलविदा जुम्मे की नमाज अदा करने वाले 70 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

इनमें मंसूर खान, शेख सिराजुद्दीन, साबिर अंसारी, शेख जावेद खान, इदरीश अंसारी, शकूर अंसारी, शेख अब्दुल्ला,  सेनुलाहखान, सरफुद्दीन अंसारी, शेख मकसूद,एनुल खान, कमालू खान, सफीक खान, जवाद ख़ान एवं निसार खान के नाम शामिल हैं। सभी 70 लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में FIR दर्ज की गई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,526FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe